नपा प्रशासन ने धनवंतरी काम्प्लेक्स के बाहर से हटाया मंदिर, दूसरे मंदिर में विराजमान होंगी प्रतिमा

भिंड(नईदुनिया प्रतिनिधि)। नगर पालिका प्रशासन ने मंगलवार को पुलिस बल की मौजूदगी में परेड चौराहा के पास धनवंतरी काम्प्लेक्स के बाहर मंदिर से प्रतिमाओं को पुराने सीआइडी कार्यालय परिसर मंदिर में शिफ्ट किया। सड़क के बीच आ रहे मंदिर के अतिक्रमण को हटा दिया। कार्रवाई का विरोध करने पहुंचे कांग्रेस महामंत्री राहुल सिंह कुशवाह, भाजयुमो नेता रक्षपाल सिंह को पुलिस ने थाने में बैठा लिया गया। दोनों नेताओं को थाने भेजने के बाद नपा प्रशासन ने अपनी कार्रवाई को अंजाम दिया। नपा सीएमओ सुरेंद्र शर्मा का कहना है इससे परेड चौराहे पर यातायात व्यवस्था सुधरेगी। कार्रवाई के दौरान एडीएम प्रवीण फुलपगारे मौके पर ही मौजूद रहे।

थाने में धरने पर बैठे जिलाध्यक्ष, विधायकः

महामंत्री राहुल कुशवाह को बिना शर्त छोड़ने की मांग कर कांग्रेस जिलाध्यक्ष मान सिंह कुशवाह लालू, गोहद विधायक मेवाराम जाटव, वीरेंद्र यादव, रणजीत गुर्जर, ममता मिश्रा, रेखा भदौरिया, आशीर्वाद शर्मा, आशीष गुर्जर, अनिल भारद्वाज, अरविंद सोनी अन्य पदाधिकारियों के साथ शहर कोतवाली थाना परिसर में धरने पर बैठ गए। कांग्रेस नेताओं ने पुलिस, प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी की। टीआइ राजकुमार शर्मा ने जिलाध्यक्ष और विधायक जाटव को अपने चेंबर में बुलाकर कहा वरिष्ठ अधिकारियों से बात करें। वरिष्ठ अधिकारियों से जो निर्देश मिलेंगे, उसका पालन किया जाएगा। इसके बाद कांग्रेस नेता एसपी कार्यालय चले गए।

भाजयुमो नेता की किसी ने नहीं ली सुध

विरोध करने पहुंचे भाजयुमो नेता रक्षपाल सिंह भदौरिया को भी पुलिस ने थाने में बैठा लिया था। कांग्रेस महामंत्री राहुल कुशवाह को छुड़वाने कांग्रेस जिलाध्यक्ष मान सिंह कुशवाह, गोहद विधायक मेवाराम जाटव अपने समर्थकों के साथ कोतवाली थाने में धरने पर बैठे, लेकिन भाजयुमो नेता की सुध लेने उनकी पार्टी का कोई पदाधिकारी थाने नहीं पहुंचा। रक्षपाल के मित्र बलराम सिंह भदौरिया जरूर थाने पहुंचे। उन्होंने एसडीएम से टीआइ की बात कराई, लेकिन उन्हें बता दिया गया कार्रवाई पूरी होने के बाद छोड़ेंगे।

मंदिर के नीचे निकला प्राचीन कुआं

धनवंतरी काम्प्लेक्स के बाहर मंदिर से प्रतिमा दूसरे मंदिर में प्राण प्रतिष्ठा के लिए भिजवाने के बाद नपा ने अतिक्रमण विरोधी कार्रवाई शुरू की। मंदिर के नीचे प्राचीन कुआं मिला है। फिलहाल कुएं को मिट्टी डालकर बंद किया गया है। कुएं के चारों ओर बैरिकेड्स लगाए गए हैं। मंदिर में स्थापित शंकर भगवान की प्रतिमा स्थानीय रहवासी रवींद्र जैन अपने घर ले गए। माता देवी और हनुमानजी की प्रतिमा जिला पंचायत के सामने पुराने सीआइडी कार्यालय परिसर के मंदिर में भिजवाई गईं।

दो दिसंबर को होगी मूर्ति की प्राण प्रतिष्ठा

पुराने सीआइडी कार्यालय परिसर मंदिर में प्रतिमाओं की दो दिसंबर को प्राण प्रतिष्ठा होगी। प्रतिमा शिफ्टिंग से एक दिन पहले सोमवार को आचार्य रामकिशोर शास्त्री वृंदावन, मनोज मिश्रा वाराणसी, पवन किशन शास्त्री वृंदावन, प्रदीप शास्त्री वृंदावन और श्याम सुंदर वाराणसी ने गणेश पूजन किया। मंगलवार सुबह शिफ्टिंग से पहले विशेष पूजा-अर्चना की गई। अब एक दिसंबर को विशेष पूजा के बाद दो दिसंबर को प्राण प्रतिष्ठा होगी।

--

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local