भिंड. गोरमी। गोरमी के बालूपुरा गांव में 15 वर्षों से हत्या के प्रयास में फरार 5 हजार के इनामी दिलीप यादव ने साथियों के संग पुलिस पर फायरिंग कर दी। आरोपित की ओर से 3 गोलियां चलीं। गोरमी पुलिस ने जवाबी फायरिंग के लिए मोर्चा संभाला तो आरोपित बुलट बाइक छोड़कर बाजरे के खेत में जा छिपा। खेतों में आसपास किसान काम कर रहे थे, इससे पुलिस फायरिंग नहीं कर पाई।

गोरमी पुलिस ने कंट्रोल कक्ष को प्वाइंट दिया। आसपास के थानों का बल और एसपी मनोज कुमार सिंह बालूपुरा गांव पहुंचे। करीब 3 घंटे सर्चिंग में एक आरोपित पकड़ में आया। उसके पास से 12 बोर की दोनाली अधिया बंदूक, 15 कारतूस मिले हैं। मुख्य आरोपित साथियों के साथ भाग निकला।

गोरमी के वार्ड 7 निवासी आरोपित दिलीप यादव पुत्र मदन सिंह यादव पर वर्ष 2005 में हत्या के प्रयास का केस दर्ज किया गया था। आरोपित दिलीप तब से ही फरार था। मंगलवार को दिलीप अपने साथी सुंदर पुत्र अयोध्या थापक निवासी वार्ड 8 गोरमी और दो अन्य साथियों को लेकर बालूपुरा गांव में कौशल थापक का खेत जुतवाने के लिए गया था। कौशल से दिलीप का विवाद चल रहा था।

दिलीप की सूचना मिलने पर गोरमी टीआई मनोज राजपूत थाने से बल लेकर बालूपुरा गांव पहुंचे। यहां पुलिस का दिलीप और उसके साथियों से सामना हो गया। दिलीप के पास 306 बोर की रायफल थी, उसने पुलिस पर गोली चला दी। गोली चलाने के बाद दिलीप बुलट से साथी के साथ बाजरे के खेत की ओर गया। बुलट छोड़कर खेत में जा घुसा। खेत से एक-एक कर 2 फायर और किए। इस दौरान टीआई राजपूत और उनके साथ गए बल ने जवाबी फायरिंग के लिए मोर्चा संभाला, लेकिन आसपास के खेताें में किसान काम कर रहे थे। इससे पुलिस ने फायर नहीं किया।

एसपी ने एनाउंस कराया, सर्चिंग में साथी मिला:

कंट्रोल से बालूपुरा गांव में पुलिस पर फायरिंग की सूचना मिलते ही आसपास के थानों का बल पहुंच गया। भिंड से एसपी मनोज कुमार सिंह भी बालूपुरा गांव पहुंचे। दिलीप और उसके साथी बाजरे के जिस खेत में घुसे थे, उसकी पुलिस ने घेराबंदी की।

एनाउंस कर आरोपितों को सरेंडर के लिए कहा गया। इसके बाद पुलिस ने करीब 3 घंटे सर्चिंग की। सर्चिंग के दौरान दिलीप का साथी सुंदर थापक पुत्र अयोध्या थापक निवासी वार्ड 8 गोरमी पकड़ में आ गया। सुंदर के पास से 12 बोर की दोनाली अधिया बंदूक, कारतूस का पट्टा मिला है, जिसमें 15 कारतूस लगे मिले हैं।

इनका कहना है

हत्या के प्रयास के 5 हजार के इनामी ने साथियों के साथ मिलकर पुलिस पर फायरिंग की है। सर्चिंग कराई गई, लेकिन मुख्य आरोपित भाग गया है। उसका एक साथी पकड़ा है। उससे 12 बोर की बंदूक, कारतूस जब्त किए हैं। आरोपित की बुलट भी जब्त की गई है।

मनोज कुमार सिंह, एसपी, भिंड

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस