भिंड। लोहे के पाइप से भरे डंपर ने पुलिस कंट्रोल रूम के सामने दो महिलाओं और छात्रा को कुचल दिया। मौके पर ही एक महिला की मौत हो गई, जबकि अन्य दो गंभीर रूप से घायल हो गए। हादसा गुरुवार सुबह 8:30 बजे हुआ। मृतका नगरपालिका में अस्थायी सफाईकर्मी के पद पर कार्यरत थी।

हादसे के बाद गुस्साए लोगों ने हाइवे पर शव रखकर चक्काजाम कर दिया। इस बीच भागते समय डंपर ने लश्कर रोड पर ऑटो को भी टक्कर मारी, जिससे उसमें बैठा एक शिक्षक भी घायल हो गया। शहर से करीब 12 किमी दूर बरोही थाने की पुलिस ने डंपर को पकड़ लिया। ड्राइवर शराब के नशे में धुत था। डंपर और ड्राइवर को पुलिस के सुपुर्द किया गया।

देहात थाने के पीछे मीरा कॉलोनी निवासी मंजू (34) पत्नी रामेश्वर वाल्मीकि नगरपालिका में अस्थायी सफाई कर्मचारी थी। गुरुवार सुबह वे वार्ड 24 में सफाई करके पैदल ही घर लौट रही थी। साथ में सुनीता (45) पत्नी राजेंद्र वाल्मीकि भी थी। दोनों बायपास पर पुलिस कंट्रोल रूम के सामने पहुंची ही थी कि सर्किट हाउस की ओर से आ रहे डंपर क्रमांक एचआर 55 क्यू 0287 के ड्राइवर ने दोनों को कुचल दिया।

मंजू के सिर से डंपर का पहिया निकल गया। इससे मौके पर ही उनकी मौत हो गई, जबकि सुनीता के सिर और शरीर के बाकी हिस्सों में चोट है। इसी दौरान डंपर ने घर से ट्यूशन पढ़ने जा रही 11वीं कक्षा की छात्रा जूली (17) पुत्री रवीन्द्र गोयल को टक्कर मारी। छात्रा के पैर में चोट है। दोनों को इलाज के लिए भर्ती कराया गया।

इनका कहना है

लोहे के पाइप से भरे डंपर ड्राइवर ने लापरवाही से वाहन चलाकर महिलाओं और छात्रा में टक्कर मारी है। एक महिला की मौत हो गई है। डंपर को जब्त कर ड्राइवर को गिरफ्तार किया है।

शैलेंद्र कुशवाह, टीआई, थाना देहात भिंड

Posted By: Hemant Upadhyay