भिंड, नईदुनिया प्रतिनिधि। पुलिस ने शुक्रवार को अंतरराज्यीय चोर गिरोह को पकड़ने का राजफाश किया है। चोरों ने जिला न्यायालय के मालखाने, अटेर के खड़ीत गांव, शहर में 4 जगह और इटावा के सहसों के अलावा अहमदाबाद के दिशा जिले में वारदात को अंजाम देना कबूल किया है। पुलिस ने चोरों से 3 बंदूक, मंदिर के कलश, सोने-चांदी के जेवर के अलावा नगदी रुपए भी बरामद किए हैं। गिरोह में कुल 13 सदस्य हैं। इसमें एक आरोपित जेल में हैं, जबकि 11 आरोपितों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। वहीं एक आरोपित फरार चल रहा है। चोरों ने चोरी का माल भिंड में एक सुनार को बेचा है। एसपी रूडोल्फ अल्वारेस के मुताबिक चोरों को न्यायालय में पेश कर पीआर पर लेकर पूछताछ करेंगे। इसके बाद चोरी का और माल बरामद किया जाएगा। एसपी श्री अल्वारेस ने बताया कि जिले में कुछ महीनों से चोरी की वारदात हो रही थी।

चोरी के खुलासे के लिए एसआईटी टीम बनाई गई। इसमें एसआई सीपीएस चौहान के अलावा सिटी कोतवाली टीआई उदयभानसिंह यादव, देहात टीआई शैलेन्द्रसिंह कुशवाह, निरीक्षक तिमेश छारी, एसआई रामसेवक शर्मा, एसआई पंकज मुदगल, एसआई शिवप्रतापसिंह, एसआई गोपालसिंह सिकरवार के अलावा आरक्षक सतेन्द्र भदौरिया, जुगराजसिंह चौहान, प्रमोद पाराशर, राजवीर कुशवाह, रिंकू राजावत को शामिल किए गए।

पुलिस ने इन चोरों को किया गिरफ्तार

एसपी के मुताबिक पुलिस ने अंकित उर्फ गोलू (25) पुत्र श्रवण शर्मा निवासी स्वतंत्र नगर भिंड, बबलू उर्फ संतोष (45) भदौरिया पुत्र सुधरेसिंह भदौरिया निवासी किशूपुरा, नीरज शर्मा (24) पुत्र रामशंकर शर्मा निवासी चांदपुर दिमनी मुरैना, रवि शर्मा (30) पुत्र राजाराम शर्मा निवासी कच्छपुरा थाना अंबाह मुरैना, सोनू शर्मा (32) कामता प्रसाद शर्मा निवासी हरदास मोहल्ला भारौली, लालू उर्फ लाखन उर्फ राजकुमार भदौरिया (25) पुत्र गोविंद सिंह निवासी गौना बरोही, मोहरसिंह (40) पुत्र धीरसिंह भदौरिया निवासी प्रतापपुरा मेहगांव, भूरेसिंह नरवरिया (53) पुत्र सुखवासी नरवरिया निवासी उद्दनपुरा अटेर, लल्लू उर्फ प्रेमसिंह (21) पुत्र जमुना नगर, मोहित शर्मा (21) पुत्र अरुण शर्मा निवासी प्रतापपुरा के अलावा दीपू कोरी निवासी छिरियापुरा को गिरफ्तार किया है।

पुलिस ने ऐसे किया गिरफ्तार

एसपी श्री अल्वारेस के मुताबिक मुखबिर से सूचना मिली कि 22-23 फरवरी 2019 की रात न्यायालय में हुई चोरी को अंकित उर्फ गोलू 25 पुत्र श्रवण कुमार शर्मा निवासी स्वतंत्र नगर एमजेएस कॉलेज ने अपने साथियों के साथ की थी। पुलिस ने अंकित को पकड़कर पूछताछ की तो पहले तो उसने पुलिस को गुमराह करने का प्रयाास किया। जब सख्ती से पूछताछ की तो उसने बताया कि न्यायालय में चोरी की वारदात को उसने अनिल पुत्र बबलू भदौरिया निवासी किशूपुरा, धंपे उर्फ धर्मेन्द्रसिंह भदौरिया निवासी दैपुरा हाल अटेर रोड और दीपू कोरी के साथ अंजाम दिया था।

ऐसे की थी न्यायालय परिसर में चोरी

एसपी के मुताबिक चोर अनिल भदौरिया की ओमनी वैन से चोरी करने गए। चोर पेड़ पर चढ़कर न्यायालय की छत पर पहुंचे। यहां से नीचे उताकर न्यायालय के मालखाने में पहुंचे। ताला तोड़कर 315 बोर की 10 बंदूक, 12बोर की 3 बंदूक और एक कट्टा चुराकर ले गए। एसपी के मुताबिक चोरी गई बंदूकों को अनिल ने अपने पिता की मदद से चेन सिस्टम से बेचा है।

इसमें 3 बंदूकें पुलिस ने बरामद कर ली हैं। एसपी के मुताबिक मामले में अनिल भदौरयिा फरार चल रहा है। जबकि धंपे भदौरिया जेल में बंद है। शुक्रवार देर शाम एसआईटी टीम ने दीपू कोरी को इटावा रोड से गिरफ्तार कर लिया है। इसमें जेल में बंद धंपे गिरोह का मास्टर माइंड है।

चोरों ने इन वारदातों को किया कबूल

एसपी के मुताबिक 11 अगस्त को मोहित शर्मा और अंकित शर्मा अटेर के खड़ीत गांव गए। यहां काली मां मंदिर पर आकर प्रसाद चढ़ाया रामलक्ष्मण कटारे के यहां प्रसाद खिलाया। प्रसाद खाने के बाद सभी लोग बेहोश हो गए। चोर यहां से ढाई लाख रुपए, 34 तोला सोने के जेवर, डेढ़ किलो चांदी, एक 366 बोर की बंदूक, 25 कारतूस सहित अन्य सामान चुराकर ले गए थे।

इसी तरह चोरों ने अटेर क्षेत्र में बैंक में भी चोरी का प्रयास किया था। सिटी कोतवाली क्षेत्र में लल्लू उर्फ प्रेमसिंह और मोहित शर्मा ने 3 वारदातों को अंजाम दिया था। जबकि देहात क्षेत्र में न्यायालय सहित 2 चोरी की हैं। इसके अलावा इटावा के सहसों और अहमदाबाद के दिशा जिले में भी चोरी की वारदात को अंजाम दिया है।

Posted By: Nai Dunia News Network