भिंड, नईदुनिया प्रतिनिधि। पति से विवाद के बाद पत्नी 15 दिन पहले 3 साल के बेटे को लेकर मेहगांव के मुस्तरी मायके में चली गई। रविवार सुबह 10 बजे पति -पत्नी को लेने के लिए ससुराल गया, लेकिन महिला ने आने से मना कर दिया। युवक बेटे को लेकर घर आ गया। शाम 6 बजे युवक नशे की हालत में फिर ससुराल पहुंच गया और पत्नी से चलने के लिए कहा। महिला ने साथ आने से मना कर दिया। पत्नी बोली वह एक-दो दिन बाद आएगी। पति नाराज हुआ तो महिला ने जेठ को कॉल कर पति की शिकायत की। भाई की डांट पर युवक बोला कि अब वह पत्नी को कभी चेहरा नहीं दिखाएगा। युवक 8 बजे घर आया गया। बच्चों को खाना खिलाकर रात 10 बजे सभी सो गए। रात करीब 11 बजे युवक ने कमरे में फांसी लगा ली। रात में बड़ी बेटी की नींद खुली तो पिता को फांसी पर लटके देखा। बेटी ने दादी को बताया। परिजन ने रात में पुलिस को सूचना दी। सोमवार सुबह जिला अस्पताल में युवक का पीएम कराया गया।

यह है पूरा मामला :

भंवरसिंह 30 पुत्र पन्नाालाल जाटव निवासी कृष्णा नगर जगराम नगर के पीछे रहते हैं। भंवरसिंह के तीन बच्चे हैं। इसमें बेटी बिंदू 8, तनू 6 और 3 साल का बेटा डुग्गू हैं। 15 दिन पहले भंवरसिंह का पत्नी फूलवती उर्फ फूला से किसी बात को लेकर विवाद हो गया। पत्नी नाराज होकर बेटे डुग्गू को लेकर मेहगांव के मुस्तरी अपने मायके चले गई। रविवार को युवक को पत्नी और बेटे की याद आई तो वह उन्हें लेने के लिए ससुराल गया। पत्नी ने ससुराल आने के लिए मना कर दिया। युवक अपने साथ बेटे को ले गया। घर आकर बेटा रोया तो युवक फिर से ससुराल गया और पत्नी से घर चलने के लिए कहा। लेकिन पत्नी ने आने से मना करते हुए कहा कि वह एक-दो दिन में आ जाएगी।

भाई से कहा कि अब चेहरा नहीं दिखाऊंगा

ससुराल में युवक के हंगामा करने के दौरान महिला ने भिंड में रहने वाले अपने जेठ देवसिंह को फोन कहा कि भंवरसिंह शराब पीकर हंगामा कर रहे हैं। भाई ने भंवरसिंह को फोन कर कहा कि वह घर आ जाए वहां हंगामा नहीं करें। युवक ने अपने भाई से कहा कि पत्नी आज घर नहीं आई तो वह उसे कभी चेहरा नहीं दिखाएगा। युवक ससुराल से अपने घर आया आ गया। रात 10 बजे तीनों बच्चों को खाना खिलाकर सभी सोने के लिए चले गए। रात करीब 11 बजे युवक ने कमरे में फांसी लगा ली। देर रात जब बड़ी बेटी बिंदू की नींद खुली तो पिता को फांसी पर लटके देखा। बिंदू ने अपनी दादी रामवती को जगाकर बताया कि पिता ऊपर लटक रहे हैं। दादी ने परिजन को जगाया और पुलिस को सूचना दी। सुबह पुलिस ने युवक का जिला अस्पताल में पीएम कराकर शव परिजन को सुपुर्द कर दिया।

युवक ने रात में फांसी लगाई थी। पीएम कराकर शव परिजन को सौंप दिया है। पुलिस ने मर्ग कायम कर जांच शुरू कर दी है। - शैलेन्द्रसिंह कुशवाह, टीआई देहात थाना

Posted By: Nai Dunia News Network