Bhind Road Accident News: अब्बास अहमद, भिंड नईदुनिया। शादी समारोह से लौट रहे तीन दोस्तों की बाइक हाइवे पर खड़ी खंडों से भरी ट्राली में पीछे से घुस गई। हादसे में दो दोस्तों की मौके पर मौत हो गई। तीसरा दोस्त गंभीर रूप से घायल है। उसे इलाज के लिए अस्पताल भिजवाया गया है। हादसा सोमवार रात 12 बजे ग्वालियर-भिंड नेशनल हाइवे-719 पर गिंगरखीं गांव के पास हुआ। दोनों मृतक भिंड के रहने वाले हैं। टायर फटने से चालक ट्राली हाइवे पर पार्क कर चला गया था। बाइक सवारों को अंधेरे में खंडों से भरी ट्राली नजर नहीं आई। इससे हादसा हाे गया। मेहगांव थाना पुलिस ने पड़ताल शुरू कर दी है।

मेहगांव थाना पुलिस के मुताबिक बीसलपुरा थाना देहात भिंड निवासी 28 वर्षीय जितेंद्र पुत्र अशोक शर्मा सोमवार को बाइक क्रमांक एमपी 30 एमएच 0154 से दोस्त 25 वर्षीय अखिलेश तिवारी पुत्र सुनील तिवारी निवासी सुरपुरा हाल विकास नगर भिंड और 22 वर्षीय विवेक पुत्र राजेश सिंह भदौरिया निवासी रायपुरा हाल वीरेंद्र नगर भिंड के साथ शादी समारोह में शामिल होने के लिए नौनेरा गए थे। रात करीब 12 बजे तीनों बाइक से वापस भिंड लौट रहे थे। मेहगांव थाना क्षेत्र के गिंगरखीं गांव के पास खंडों से भरी ट्राली खड़ी थी। टायर फटने से चालक ट्राली को सड़क पर ही पार्क कर गया था। बाइक चला रहे जितेंद्र को अंधेरे में खंडों से भरी ट्राली नजर नहीं आई। इससे बाइक पीछे से ट्राली में जा घुसी। टक्कर इतनी जबरदस्त हुई कि मौके पर ही जितेंद्र शर्मा, अखिलेश तिवारी की मौत हाे गई, जबकि बाइक पर पीछे बैठा विवेक भदौरिया गंभीर रूप से घायल है। हादसे की सूचना मिलते ही रात में मेहगांव थाना पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस ने घायल विवेक को इलाज के लिए अस्पताल भिजवाया। दोनों मृतकों के शव पीएम के लिए डेड हाउस भिजवाए।

हादवे पर ले-बाय नहीं होने से हुआ हादसा: यहां बता दें, ग्वालियर-भिंड नेशनल हाइवे 719 पर एक भी स्थान पर ले-बाय नहीं है। जबकि इस हाइसे रोजाना 24 घंटे में 10 हजार से ज्यादा भारी वाहन गुजरते हैं। ऐसे में ले-बाय नहीं होने पर वाहनों को हाइवे पर ही पार्क करना होता है। यह स्थिति हादसों को अंजाम दे रही है। सोमवार रात में हुआ हादसा भी इसी की परीणिति है। ले-बाय नहीं होने से टायर फटने पर खंडों से भरी ट्राली को चालक ने हाइवे पर ही पार्क कर दिया। रात में अंधेरा होने से खंडों से भरी यह ट्राली बाइक सवार युवकों को नजर नहीं आई। इससे वे हादसे का शिकार हुए।

पत्नी और स्वजन का रो-रोकर बुरा हाल: हादसे में मृत जितेंद्र शर्मा की शादी हो चुकी है। पत्नी नीतू शर्मा और स्वजन का रो-रोकर बुरा हाल है। जितेंद्र का छह वर्ष का बेटा भी है। यही हाल अखिलेश तिवारी के परिवार का है। अखिलेश के स्वजन का भी रो-रोकर बुरा हाल है। घर में किसी ने यह नहीं सोचा था कि शादी समारोह में जाने के लिए निकले दोस्त इस तरह से वापस लौटेंगे। वहीं मेहगांव थाना पुलिस का कहना है कि वे ट्रैक्टर चालक को तलाश कर रहे हैं। खंडे से भरी ट्राली हाइवे किनारे पार्क करने पर चालक पर केस दर्ज किया जाएगा।

Posted By: vikash.pandey

NaiDunia Local
NaiDunia Local