लहार। अपर सत्र न्यायाधीश लहार जिला भिंड की कोर्ट ने नाबालिग के साथ दुष्कर्म करने के मामले में दो आरोपितों का जमानती आवेदन निरस्त कर दिया। अपर लोक अभियोजन अधिकारी वीरेंद्र सिंह जादौन ने बताया कि 23 सितंबर की दोपहर में नाबालिग दुकान से सामान लेने जा रही थी तभी अभियुक्त अभिषेक ने उसका हाथ पकड़ लिया और अपने घर ले गया। उस समय घर के अंदर नारायण पुत्र बलराम, संगम पुत्र गंगाराम निवासीगण सुदरपुरा भी थे। जिसके बाद नाबालिग के साथ दुष्कर्म किया। तीन घंटे तक जब नाबालिग घर नहीं पहुंची तो मां ने उसे ढूढना शुरू किया। जिसके बाद नाबालिग ने पूरी घटना अपनी मां और स्वजन को बताई। तीनों आरोपितण दुष्कर्म करने के बाद घर के पीछे के दरवाजे से भाग गए थे। जिसके बाद पुलिस ने आरोपितों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया था। इस मामले में कोर्ट ने आरोपित नाराण और संगम का जमानती आवेदन निरस्त कर दिया।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local