अब्बास अहमद. भिंड।

कोरोना महामारी के दौर में देशभर से आक्सीजन, रेमडेसिविर इंजेक्शन की कमी से जूझते मरीजों की तस्वीरें जहन को झकझोर रही हैं। ऐसे में भिंड से राहत देने वाली खबर है। भिंड में ग्वालियर-चंबल अंचल में सबसे कम 246 एक्टिव संक्रमित हैं। यहां कोविड मरीजों के लिए आरक्षित किए गए 67 आक्सीजन सपोर्ट वाले पलंग में 48 पलंग खाली हैं। चार वेंटीलेटर के पलंग खाली हैं। इन खाली पलंग को अब पड़ोसी जिले के संक्रमित मरीजों को उपलब्ध कराने की तैयारी है। भिंड सीएमएचओ डा. अजीत मिश्रा का कहना है पड़ोसी जिले मुरैना से यहां मरीज शिफ्ट करने की तैयारी है। इसको लेकर मुरैना प्रशासन से पहले दौर की बात हो चुकी है।

उप्र इटावा के चार मरीज स्वस्थ हुए

सीएमएचओ डा. अजीत मिश्रा ने बताया कि जिला अस्पताल में भर्ती मरीजों के लिए उनके पास फिलहाल पर्याप्त मात्रा में आक्सीजन है। रेमडेसिविर इंजेक्शन हैं। सीएमएचओ के मुताबिक जिला अस्पताल के कोविड सेंटर से पड़ोसी उत्तर प्रदेश के इटावा जिले के चार मरीज स्वास्थ्य लाभ ले चुके हैं। यह चारों मरीज रिकवर होकर गए हैं। इनमें एक मरीज को इटावा जिले के सैफई के आयुर्विज्ञान विश्विद्यालय से आक्सीजन सपोर्ट के लिए भिंड आया था। जिले में अभी तक करीब पांच मरीजों को रेमडेसिविर की जरूरत पड़ी है। इन मरीजों को अस्प्ताल प्रबंधन की ओर से ही निशुल्क रेमडेसिविर इंजेक्शन मुहैया कराए गए हैं।

देखिए कहां कितने पलंग खाली

जिला अस्पताल में आक्सीजन सपोर्ट के 67 पलंग हैं। इनमें से 19 पलंग भरे हैं। आक्सीजन सपोर्ट के 48 पलंग खाली हैं। कोविड ई-आइसीयू में 15 पलंग हैं। इनमें 11 पलंग भरे हुए हैं। आइसीयू के चार पलंग खाली हैं। इसके अलावा चार वेंटीलेटर पलंग हैं, जो फिलहाल खाली हैं। कोविड के लिए फिलहाल जिला अस्पताल में आक्सीजन सपोर्ट और सामान्य श्रेणी सहित 120 पलंग का इंतजाम मरीजों के लिए है। इनमें 43 पर मरीज भर्ती हैं। 77 पलंग खाली हैं।

भिंड में सबसे कम 246 मरीजः

अंचल में सबसे कम 246 भिंड जिले में हैं। कोविड केयर सेंटर में 43 संक्रमित भर्ती हैं। 198 होम आइसोलेट हैं। जिले में कोरोना महामारी की दूसरी लहर में 494 केस सामने आ चुके हैं। अप्रैल माह में ही 468 केस आए हैं। सात फरवरी 2021 से अब तक 248 संक्रमित रिकवर हो चुके हैं। यानी जिले में करंट पाजीशन में 246 संक्रमित मरीज हैं।

वर्जनः

हमारे जिले में पिछले वर्ष पहली लहर में भी सबसे कम संक्रमित थे। इस बार भी कम संक्रमित हैं। हमारे यहां अभी पर्याप्त इंतजाम है। ऐसे में इन संसाधन का उपयोग पड़ोस के लोगों की जिंदगी बचाने में किया जाएगा।

डा. अजीत मिश्रा, सीएमएचओ, भिंड

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

NaiDunia Local
NaiDunia Local
 
Show More Tags