भिंड, नईदुनिया प्रतिनिधि। मध्यप्रदेश के पूर्व सीएम और कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह के एक बयान पर फिर विवाद खड़ा हो गया है। उन्होंने यहां कहा कि पाकिस्तान के लिए जासूसी करते पाए गए, वे सब बजरंग दल, भारतीय जनता पार्टी के हैं। आईएसआई से पैसा ले रहे हैं। आईएसआई के लिए जासूसी मुसलमान कम गैर मुसलमान ज्यादा कर रहे हैं। उन्होंने कहा हमारी विचारधारा की लड़ाई भाजपा से है, संघ से है। जिन्होंने भारत की आजादी के संघर्ष में भाग नहीं लिया। हमें वो राष्ट्रीयता का सबक सिखाना चाहते हैं। कहां थे यह लोग 1947 से पहले। कहां थे यह लोग, जब आजादी की लड़ाई में भगत सिंह, अशफाक उल्ला खान ने फांसी का फंदा चूमा।

अपने बयान पर विवाद उठने के बाद दिग्विजय ने ट्वीट कर कहा कि कुछ चैनल चला रहे हैं कि मैंने भाजपा पर यह आरोप लगाया है कि वे आईएसआई से पैसा ले कर पाकिस्तान के लिए जासूसी करते हैं। यह पूरी तरह से गलत है। बजरंग दल व भाजपा के आईटी सेल के पदाधिकारी द्वारा आईएसआई से पैसे लेकर पाकिस्तान के लिए जासूसी करते हुए मप्र पुलिस ने पकड़ा है। मैंने यह आरोप लगाया है जिस पर मैं आज भी कायम हूं। चैनल वाले ये सवाल भाजपा से क्यों नहीं पूछते।

शिवराज सिंह चौहान ने किया पलटवार

पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि दिग्विजय सिंह जानबूझकर ऐसी बयानबाजी करते हैं। वह और उनके नेता पाकिस्तान की भाषा बोलते हैं। उनकी विश्वसनीयता बची नहीं है। मैं उनके बयान को इसलिए गंभीरता से नहीं लेता, क्योंकि सारा देश संघ और भाजपा की देशभक्ति से परिचित है, हमें दिग्विजय जी के प्रमाण की जरूरत नहीं है। दिग्विजय सिंह, ओसामा जी और हाफीज जी कहने वाले नेता हैं। वह विवादित बयान इसलिए देते हैं, ताकि सुर्खियों में बने रहें। वे और उनके नेता जो पाकिस्तान चाहता है, वो बोलते हैं। ऐसे नेता को मैं गंभीरता से नहीं लेता और न देश लेता है।

कश्मीर में और बिगड़ेगी स्थिति

पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने कश्मीर के मुद्दे पर कहा, वहां स्थिति और बिगड़ेगी। जो लोग आपके साथ थे उन्हें, नजर बंद किया है। हवालात भेजा हुआ है। आपकी पैरवी कौन करेगा। पाकिस्तान के हिमायती और कश्मीर को आजाद देखने की चाह रखने वाले तो नहीं करेंगे। कश्मीर के लोगों का विश्वास बहुत जरूरी है। उन्होंने कहा, मोदी जी जरा सीखिए, अटल जी ने कश्मीर समस्या का हल 3 शब्दों में कहा था। जम्हूरियत, कश्मीरीयत और इंसानियत। मोदी जी के अमति शाह ने जम्हूरियत, कश्मीरियत और इंसानियत पर ध्यान नहीं दिया।

सिंह ने बिगड़ी अर्थव्यवस्था पर बोलते हुए कहा देश में सबसे ज्यादा बेरोजगारी भाजपा के मोदी (प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी) राज में बढ़ी है। ऑटो मोबाइल इंडस्ट्री में 3 लाख गाड़ियां बिक नहीं रहीं। 35 लाख बाइक-स्कूटर बिक नहीं रहे। ऑटो इंडस्ट्री में 10 लाख लोग बेरोजगार हो रहे हैं। नोटबंदी से देश में 50 लाख लोग बेरोजगार हुए। उन्होंने कहा अर्थव्यवस्था संभालिए मोदी जी, ट्रिपल तलाक बाद में होता रहेगा। इस दौरान सामान्य प्रशासन मंत्री डॉ. गोविंद सिंह, भिंड विधायक संजीव सिंह मौजूद रहे।