भिंड,फूफ। ग्वालियर-इटावा नेशनल हाईवे 92 के चंबल नदी पर बने पुल से गुरुवार दोपहर 12 बजे से हैवी वाहन निकालना शुरू हो जाएंगे। 14 अगस्त तक पुल से वन-वे ट्रैफिक ही निकाला जाएगा। सुधार कार्य होने से 4 दिन से थमे भारी वाहनों के ड्राइवरों को राहत मिलेगी।

मालूम हो, कि 1-2 जुलाई की रात चंबल नदी के पुल पर गड्ढा हो गया था। 2 अगस्त को हाइवे से जुड़े इटावा पीडब्ल्यूडी के अधिकारियों ने पुल का निरीक्षण किया था। 4 अगस्त को पुल पर हुए गड्ढे को बंद कर दिया गया था। लेकिन उसी रात करीब 11 बजे हैवी वाहन गड्ढे से होकर निकल गए। इससे पुल पर खतरा बढ़ने की आशंका अधिक हो गई थी। 5 अगस्त से अधिकारियों ने पुल से हैवी वाहनों का निकलना प्रतिबंधित कर दिया था।

मंगलवार रात गड्ढे पर प्लेट रखवाई

इटावा पीड्ब्ल्यूडी ईई सुभाषचंद्र शर्मा का कहना है कि गड्ढे को मजबूती देने के लिए उस पर लोहे की प्लेट रखाई गई है। यह प्लेट मेरठ से आई है। ईई के मुताबिक मंगलवार रात पुल पर ट्रैफिक रोककर गड्ढे के ऊपर प्लेट को सेट किया गया है। 16 एमएस मोटी प्लेट है। प्लेट लगने के बाद पुल को काफी मजबूती मिलेगी।

पुल पर लोहे की प्लेट मंगलवार रात लगवाई गई थी। ऐसे में प्लेट को सेट होने के लिए करीब 24 से 36 घंटे का समय चाहिए है। इसलिए पुल से हैवी वाहन गुरुवार दोपहर 12 बजे से निकालना शुरू कर दिया जाएगा। फिलहाल 14 अगस्त तक पुल पर वन-वे तरीके से ट्रैफिक निकाला जाएगी।