भिंड (नईदुनिया प्रतिनिधि)। Madhya Pradesh News शहर के अटेर रोड नरेश नगर में नाबालिग दूल्हा और दुल्हन की शादी कराई गई है। नाबालिगों की शादी की बात सामने आने पर पुलिस और महिला बाल विकास विभाग बुधवार को दोपहर से देर रात तक चकरघिन्नी रही।

बरात इटावा के कचौरा रोड से आई थी। महिला बाल विकास अधिकारी विकास गुप्ता और एसआई अरविंद यादव ने दूल्हे को बुलवाया तो परिजन ने उसकी उम्र 18 वर्ष बताई, जबकि शादी के लिए लड़के की उम्र 21 साल होना चाहिए। ऐसे में दूल्हे को फिलहाल बालगृह भेज दिया गया है। दुल्हन को परिजन सामने लेकर नहीं आए हैं।

प्रभारी महिला बाल विकास अधिकारी विकास गुप्ता ने बताया कि अटेर रोड नरेश नगर निवासी कालीचरण रजक ने नाबालिग बेटी की शादी इटावा कचौरा रोड निवासी दलवीर सिंह के बेटे रामलखन सिंह से तय की थी। रामलखन भिंड में ही क्लीनरी का काम करता है। 25 फरवरी को रामलखन की शादी हो गई। सूचना मिलने पर महिला बाल विकास विभाग और पुलिस की टीम पड़ताल के लिए पहुंची।

अटेर रोड नरेश नगर निवासी दुल्हन की मां गुड्डी देवी तो पुलिस को मिल गईं, लेकिन वे बेटी के बारे में कुछ नहीं बता पाईं। इधर टीम ने इटावा में बात कर दूल्हे को भिंड बुलाया। परिजन ने बताया कि उसकी उम्र तो 18 साल है। ऐसे में दूल्हे को बाल गृह में भेजा गया है। महिला बाल विकास अधिकारी गुप्ता का कहना है कि दुल्हन भी नाबालिग हुई तो गुरुवार को इस मामले में केस दर्ज कराया जाएगा।

शादी से 1 दिन पहले पिता की मौत

एसआई अरविंद यादव का कहना है कि वे महिला बाल विकास विभाग की टीम के साथ पड़ताल के लिए अटेर रोड गए तो वहां बताया गया कि वधु के पिता कालीचरण रजक की सोमवार को बीमारी के चलते मौत हो गई। पिता ने ही कुछ महीनों पहले रामलखन से अपनी बेटी की शादी तय की थी। कालीचरण की तीन बेटी और एक बेटा है। बेटा अंधा और गूंगा बताया जा रहा है। बरहाल टीम अब पूरे मामले में पड़ताल कर रही है।

Posted By:

fantasy cricket
fantasy cricket