भिंड, मेहगांव। Madhya Pradesh News मध्य प्रदेश में भिंड जिले के मेहगांव जनपद में एक अजब मामला सामने आया है। जिसमें एक व्यक्ति ने पहले अपनी साली के साथ सात फेरे लिए और उसके बाद वहीं अपनी पत्नी को भी वरमाला पहनाई। उसकी पहली पत्नी गांव की सरपंच है। मामला 26 नवंबर का बताया जा रहा है जब गुदावली गांव में सरपंच पति ने मामा ससुर की बेटी से दूसरी शादी कर ली। खास बात यह है कि सरपंच पति ने पहले साली के साथ फेरे लिए। स्टेज पर दूसरी पत्नी को वरमाला पहनाई। इसी स्टेज पर पहली पत्नी जो कि गांव की सरपंच हैं, वह भी दुल्हन बनी मौजूद थी। पति ने बाद में पहली पत्नी के साथ भी वरमाला रस्म को पूरा किया। यहां बता दें कि कानूनन पहली पत्नी के जीवित रहते दूसरी शादी करना जुर्म है, लेकिन पति ने दावा किया है कि पत्नी बीमार रहती है। बीमारी के कारण सरपंच पत्नी ने ही बच्चों की देखरेख के लिए ममेरी बहन से शादी करने के लिए रजामंदी दी है। गुदावली गांव में हुई इस शादी का अब वीडियो सामने आया है।

डीजे की धुन पर स्टेज पर दो पत्नियों से वरमाला

26 नवंबर को गुदावली गांव में शादी का मंडप सजाया गया। वरमाला स्टेज सजाई गई। इस स्टेज पर गांव की सरपंच विनीता देवी दुल्हन के रूप में सजी तैयार खड़ी नजर आईं। सरपंच पत्नी की ममेरी बहन रचना देवी के साथ सरपंच पति दिलीप उर्फ दीपू परिहार ने सात फेरे लिए। शादी समारोह में डीजे की धुन के बीच तीनों स्टेज पर पहुंचे। यहां दीपू ने पहले रचना देवी के साथ वरमाला रस्म अदा की। इस दौरान जमकर वीडियोग्राफी हुई और गांव के लोग भी मौजूद रहे। पास में ही सरपंच विनीता देवी खड़ी थी। दूसरी पत्नी से वरमाला रस्म पूरी करने के बाद दीपू ने पहली पत्नी सरपंच विनीता देवी से वरमाला पहनी और फिर उन्हें वरमाला पहनाई।

परिवार को मनाने करना पड़ी मशक्कत

यहां बता दें कि 26 नवंबर को पति की ममेरी बहन से शादी के बाद सरपंच विनीता देवी का कोई बयान सामने नहीं आया है। शादी का वीडियो सामने आने के बाद जब रविवार को मीडियाकर्मी उनसे बात करने पहुंचे तो उन्होंने बात करने से इनकार कर दिया।

वहीं सरपंच पति दीपू परिहार का कहना है, शादी के बाद से ही रचना का उनके घर आना-जाना था। इस बीच दीपू और रचना एक-दूसरे को प्रेम करने लगे। करीब 9 साल पहले विनीता देवी से हुई शादी के बाद दीपू के तीन बच्चे हैं बेटा प्रशांत, बेटी पायल और पलक।

दीपू ने का कहना है कि पत्नी विनीता बीमार रहने लगी तो उन्होंने खुद कहा कि मेरे बाद मालूम नहीं बच्चों का क्या होगा। इसलिए दूसरी शादी कर लो। दीपू का कहना है कि दोनों बहनें साथ रहती थी, दोनों में बहुत प्यार था। इसलिए जब पत्नी ने कहा तो बच्चों के खातिर शादी के लिए तैयार हुआ। वहीं रचना का कहना है बहन की तबीयत खराब रहती है। बच्चे छोटे-छोटे हैं। इसलिए शादी कर ली। रचना का कहना है उन्हें इस शादी के लिए अपने परिवार के लोगों को मनाने में काफी मशक्कत करना पड़ी।

Posted By: Hemant Upadhyay

fantasy cricket
fantasy cricket