MP News: भिंड (मालनपुर) नईदुनिया न्यूज। नेशनल हाइवे 719 बरेठा टोल प्लाजा पर फास्टेग का सर्वर डाउन होने से तीन घंटे छोटे-बड़े वाहन जाम में फंसे रहे। इस बीच एक निजी वाहन में मरीज ने दम तोड़ दिया। शाम साढ़े 6 बजे जाम खुला तो मरीज को ग्वालियर पहुंचाया गया, लेकिन डॉक्टरों ने नब्ज देखकर मृत घोषित कर दिया।

शुक्रवार की दोपहर साढ़े 3 बजे बरेठा टोल प्लाजा पर फास्टेग के सर्वर डाउन हो गए।

गाड़ियां टोल पर खड़ी रह गईं

इस दौरान गाड़ियां टोल पर खड़ी रह गईं। इंटरनेट के इंतजार में हाइवे पर दोनों तरफ से चार किमी लंबा जाम लग गया। जाम में फंसे सैकड़ों वाहनों के बीच फूफ निवासी पुष्पेन्द्र सिंह कुशवाह बीमार मामा 70 वर्षीय बलबहादुर सिंह को निजी गाड़ी क्रमांक एमपी 30 सी 5280 से इलाज के लिए भिंड से ग्वालियर लेकर जा रहे थे।

गाड़ी शाम 6 बजे तक जाम में फंसी रही

मालनपुर के पास उनकी गाड़ी शाम 6 बजे तक जाम में फंसी रही। बलबहादुर वायरल फीवर से पीड़ित थे, जिन्हें शुक्रवार की दोपहर ढाई बजे जिला चिकित्सालय भिंड से ग्वालियर के लिए रैफर किया गया था। परिवार के लोग उन्हें निजी गाड़ी से ग्वालियर जेएएच लेकर जा रहे थे, समय पर अस्पताल न पहुंचने पर बलबहादुर सिंह ने गाड़ी में ही दम तोड़ दिया।

इनका कहना है

-जियो का नेटवर्क नहीं आने की वजह से टोल पर करीब 45 मिनट जाम लगा रहा। रही बात मरीज के दम तोड़ने की तो मुझे इस मामले में कोई जानकारी नहीं है। क्योंकि कोई भी एंबुलेंस जाम में नहीं फंसी हुई थी।

अमित राठौर, मैनेजर टोल प्लाजा बरेठा

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

NaiDunia Local
NaiDunia Local