मछंड(नईदुनिया प्रतिनिधि) महावीरगंज से रजपुरा बाया मछंड मार्ग का इन दिनों निर्माण कार्य चल रहा है। इस दौरान रजपुरा से मछंड तक करीब 5 पुलियाओं का निर्माण कराया जाना है। जिसमें से रजपुरा के पास तैयार हो रही पुलिया के निर्माण में संबंधित ठेकेदार के द्वारा जमकर लापरवाही बरती जा रही है। पुलिया के निर्माण में घटिया और जमे हुए सीमेंट का उपयोग किया जा रहा है। साथ ही जिम्मेदार अफसर ठेकेदार से सांठगांठ कर महज कागजों में ही निर्माण कार्य की मानिटरिंग कर रहे हैं।

महावीरगंज से रजपुरा बाया मछंड तक करीब 6 किलोमीट लंबी सड़क का निर्माण कार्य मप्र प्राधिकरण सड़क योजना के तहत कराया जा रहा है। इस रोड को तैयार कराए जाने का ठेका ओशो एसोसिएट कंपनी के पास है। 7 माह पहले कंपनी के द्वारा रोड का निर्माण शुरू कराया गया था। साथ ही इस मार्ग पर पांच पुलियाओं का निर्माण कराया जाना है। जिसमें से रजपुरा मोड के पास तैयार कराई जा रही पुलिया के निर्माण में संबंधित ठेकेदार की ओर से जमकर लापरवाही बरती जा रही है। पुलिया के निर्माण में एक तरफ जहां जमे हुए सीमेंट का उपयोग कराया जा रहा है। वहीं दूसरी बोर बाइब्रेटर तक नहीं है। ऐसे में एस्टीमेट की अनदेखी कर पुलिया का निर्माण कार्य कराया जा रहा है। हालांकि इस संबंध में स्थानीय ग्रामीण कंपनी के वरिष्ठ अधिकारियों से भी शिकायत कर चुके हैं, लेकिन कार्रवाई तो दूर इस मार्ग की गुणवत्ता की जांच करने की फुर्सत तक जिम्मेदार अफसरों पर नही हैं। जिम्मेदार अफसरों ने संबंधित ठेकेदार को मनमर्जी से काम करने का संरक्षण दे रखा है।

4 दिन से गांव के मुख्य मार्ग पर डली हुई है गिट्टीः

मिहोना से मछंड मार्ग के बीच पड़ने वाले रजपुरा गांव के मुख्य मार्ग पर चार दिन पहले संबंधित ठेकेदार के द्वारा गिट्टी डलवाई गई थी। जिसे आज तक हटाया नहीं गया है। ऐसे में ग्रामीणों को आवागमन करते समय परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। साथ ही चार पहिया वाहन गांव के अंदर नहीं जा पा रहे हैं। स्थानीय ग्रामीणों का कहना है कि गांव के मुख्य मार्ग से गिट्टी हटाए जाने को लेकर रोड का काम देखने वाले कर्मचारियों से गुहार लगा चुके हैं, लेकिन अब तक कोई सुनवाई नहीं हुई।

कागजों में खानापूर्ति करने में जुटे अफसरः

मप्र प्राधिकरण सड़क योजना के तहत तैयार कराई जा रही सड़क की गुणवत्ता की जांच महज कागजों में की जा रही है। स्थानीय ग्रामीणों का कहना है कि जब से निर्माण शुरू हुआ है तब से लेकर आज तक यहां किसी अधिकारी को रोड की गुणवत्ता की जांच करते हुए नहीं देखा। सड़क का निर्माण करने वाली लेबर अपनी मनमर्जी से पुलिया और रोड का निर्माण कार्य करने में जुटी हुई है।

-सड़क और पुलिया के निर्माण कार्य में जमकर लापरवाही बरती जा रही है। इस ओर संबंधित अधकिारियों को गंभीरता से ध्यान देना चाहिए। जिससे गुणवत्तापूर्ण निर्माण हो सके।

राम देवी प्रकाश यादव, जप सदस्य रौन

- अगर निर्माण कार्य की गुणवत्ता में सुधार नहीं किया गया तो यह मार्ग निर्माण के बाद ही उखड़ना शुरू हो जाएगा। इसकी शिकायत संबंधित वरिष्ठ अधिकारियों से की जाएगी।

वकील सिंह यादव, जिपं सदस्य

-निर्माण कार्य में अगर घटिया किस्म की सामग्री का उपयोग किया जा रहा है, तो संबंधित ठेकेदार को काम बंद करने के निर्देश दिए जाएंगे। साथ ही रोड और पुलिया की गुणवत्ता की जांच कराई जाएगी।

अखिलेश गुप्ता, जनरल मैनेजर मप्र प्राधिकरण सड़क योजना

-तैयार कराए जा रहे मार्ग और पुलिया की गुणवत्ता की जांच कराए जाने को लेकर संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया जाएगा। निर्माण कार्य में किसी की भी मनमर्जी नहीं चलने दी जाएगी। साथ ही जांच में दोषी मिलने पर संबंधित नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी।

एमएल डाबर, चीफ जनरल मैनेजर मप्र प्राधिकरण सड़क योजना

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local