Online Fraud भिंड (नईदुनिया प्रतिनिधि)। जिला न्यायालय में पदस्थ कर्मचारी के साथ आनलाइन ठगी हो गई। ठग ने न्यायालय कर्मचारी को झांसे में लेकर एप डाउनलोड कराया। इसके बाद ओटीपी नंबर पूछा और खाते से 34 हजार 973 रुपये पार कर दिए। देहात थाना पुलिस ने अज्ञात युवक के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया है।

देहात थाना टीआइ विनोद सिंह कुशवाह ने बताया लहार रोड पर पेट्रोल पंप के पास रहने वाले सतीश पाठक पुत्र सुरेंद्र पाठक जिला न्यायालय में बाबू के पद पर पदस्थ हैं। बीते रोज सुबह साढ़े 11 बजे सतीश पाठक के मोबाइल पर अज्ञात काल आया। जिसने स्वयं को बैंक अफसर बताते हुए एक लिंक भेजने की बात कही।

आरोपित ने कहा कि आप अपने मोबाइल पर एप को अपलोड कीजिए, जिससे बैंक में पैसे की राशि जमा करने और निकालते समय के मैसेज आसानी से प्राप्त होते रहेंगे। लिंक पर क्लिक करने और ओटीपी भेजने की बात कही। जैसे ही सरकारी कमर्चारी ने भेजी हुई लिंक को अपलोड किया और ओटीपी दर्ज किया वैसे ही खाते से 34 हजार 973 रुपये की राशि पार हो गई। पुलिस ने फरियादी की रिपोर्ट पर आरोपित के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है।

दंदरौआ धाम के लिए निकले व्यक्ति की मौत

मिहोना से दंदरौआधाम के लिए गए व्यक्ति की रास्ते में तबियत खराब हो गई। पुलिस ने मर्ग कायम कर जांच शुरू कर दी है। पुलिस के मुताबिक सचिन मुखरैया पुत्र राजकुमार मुखरैया निवासी वार्ड 14 निवासी मिहोना ने बताया कि उनके 48 वर्षीय राजकुमार पुत्र रामचरण मुखरैया निवासी वार्ड 15 शुक्रवार को दंदरौआधाम जाने के लिए निकले थे। लेकिन वह रास्ते में बीमार हो गए। राहगीरों ने इलाज के लिए लहार अस्पताल में भर्ती कराया। यहां इलाज के दौरान मौत हो गई। बताया जाता है, कि मृतक गांजे का नशा करने के आदी थे। पुलिस ने मर्ग कायम कर जांच शुरू कर दी है।

Posted By: Nai Dunia News Network

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close