भिंड। उमरी कस्बे में भिंड गोपालपुरा स्टेट हाईवे उमरी बाजार में अंग्रेजी शराब की दुकान एवं देसी शराब की दुकान को मुख्य मार्ग से हटाने को लेकर ग्रामीण लोग धरना प्रदर्शन पर बैठे हुए हैं। ग्रामीणों की मांग है कि बाजार में ठेका होने से असामाजिक तत्वों से महिलाओं को छात्र छात्राओं को परेशानी होती है। वहीं सड़क किनारे नशे की हालत में लोग पहुंचते हैं। जिससे दुर्घटना की भी संभावना रहती है। उमरी कस्बे के नागरिकों ने गांव से शराब का ठेका हटाने की मांग को लेकर धरना प्रदर्शन किया। वहीं व्यापारियों ने स्वेच्छा से बाजार बंद कर ठेका हटाने का समर्थन किया।

शराब की दुकान पर भारी संख्या में पुलिस बल तैनात कर दिया गया है। शराब दुकानदार ने भी शराब की दुकान भीड़-भाड़ देखकर अंदर से बंद कर ली है। ग्रामीणों की मांग है कि जब तक गांव से ठेका नहीं हटाया जाता है, तब तक विरोध प्रदर्शन चालू रहेगा। धरना प्रदर्शन कर रहे लोगों के पास अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक संजीव कंचन पहुंचे जहां संजीव कंचन की गाड़ी को प्रदर्शनकारियों ने घेर लिया और कहा कि हमें आश्वासन देकर जाएं कि कब तक शराब की दुकान कस्बे से बाहर की जाएगी।

सरपंच प्रतिनिधि पूर्व सरपंच अशोक सिंह यादव ने एडिशनल एसपी संजीव कंचन को ज्ञापन देकर जल्द से जल्द दुकान हटाने की मांग की। जिस पर संजीव कंचन ने ज्ञापन लेकर स्थानीय लोगों को आश्वासन दिलाया कि पहले नियम देखे जाएंगे, यदि नियम के विरुद्ध शराब की दुकान खोली गई है तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। जब तक जांच नहीं हो जाती है तब तक शराब की दुकान बंद रहेगी। वहीं शराब की दुकान पर पुलिस बल भी तैनात है।