भिंड। खाद्य सुरक्षा अधिकारियों और प्रशासन की टीम ने अटेर के मृगपुरा गांव में नकली दूध-मावा तैयार करने का कारखाना पकड़ा है। यहां एक साथ 5 भट्टियों पर यूरिया खाद और मलेशिया का केमिकल, रिफाइंड मिलाकर नकली-दूध और मावा तैयार किया जाता था। मौके से 200 लीटर से ज्यादा मलेशिया का केमिकल, यूरिया खाद, रिफाइंड और वनस्पति घी जब्त किया है। एसडीएम का कहना है कारखाना संचालक के खिलाफ रासुका की कार्रवाई की जा रही है।

भिंड एसडीएम संतोष तिवारी, खाद्य सुरक्षा अधिकारी रीना बंसल और सतीश धाकड़ की टीम को अटेर के मृगपुरा गांव में लाखन पुत्र रोशन नरवरिया के घर में नकली दूध-मावा बनाने का कारखाना मिला है। कारखाने से 200 लीटर मलेशिया निर्मित एसीटिलेटेड मोनोग्लाइसेराइड्स रसायन, 8 टीन रिफाइंड, 21 टीन वनस्पति घी, 9.5 बोरी ग्लूकोज पाउडर, 1 बोरी मिल्क पाउडर, 3 बोरी यूरिया अमोनियम नाइट्रेट, 120 किलो मावा, 30 लीटर हाईड्रोजन पराऑक्साइड, 300 लीटर दूध मिला। टीम ने सभी माल को जब्त कर लिया है।

जब्त किए गए माल की कीमत करीब डेढ़ लाख रुपए है। पूछताछ में कारखाना संचालक लाखन नरवरिया ने बताया कि उसके यहां तैयार दूध और मावा ग्वालियर व भोपाल में खपाया जाता है। इसके अलावा 4 अन्य डेयरियों पर भी छापामार कार्रवाई की गई है।

5 क्विंटल से ज्यादा मावा जब्त

5 स्थानों पर कार्रवाई के दौरान 5 क्विंटल से ज्यादा मावा जब्त किया गया है। करीब 600 किलो दूध मिला है, जिसके नकली होने का अंदेशा जताया गया है। एसडीएम तिवारी का कहना है कि मावा और दूध के सैंपल लिए हैं। मृगपुरा गांव में मिले कारखाना संचालक के खिलाफ रासुका की कार्रवाई की जा रही है।

Posted By:

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020