Ration Card MP: मुरैना। सर्वे के दौरान राशन लेने के लिए पात्र पाए गए 25 श्रेणियों के सैकडों राशन कार्ड धारियों के नाम अपात्र राशन कार्ड धारी उपभोक्ताओं की नाम वाली सूची में आ गए थे। दावा आपत्ति की अंतिम तिथि गुजर जो के चलते यह राशन कार्ड धारी परेशान थे। नईदुनिया ने इस मामले को उजागर किया। इसके बाद प्रशासन ने शहरी और ग्रामीण क्षेत्र के उपभोक्ताओं को एक और मौका दिया है, ताकि कोई पात्र व्यक्ति अगर अपात्र की सूची में है तो वह इसे सुधरवा सके।

नईदुनिया ने 12 अगस्त को -सर्वे में जो बीपीएल पात्र मिले उनका आपात्र सूची में जोड़ा नाम- शीर्षक से खबर का प्रकाशन किया था। इस खबर में बताया गया कि किस तरह से पात्र लोगों को पता ही नहीं चला कि उनका नाम जनपद पंचायतों द्वारा जारी अपात्र कार्ड धारियों की दावा आपत्ति सूची में जोड़ दिया गया है। खबर में बतया गया था कि 7 जुलाई दावा-आपत्ति के लिए आखरी तिथि थी, जो बीत चुकी है। इस खबर के बाद प्रशासन की आंखें खुलीं और गरीब लोगों को राशन की सुविधा से वंचित होने से बचाने के लिए शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों के उपभोक्ताओं से दावे आपत्ति फिर से मांगे गए हैं।

शहर में एसडीएम, ग्रामीण में तहसीलदार सुनेंगे आपत्ति: जिन हितग्राहियों के नाम प्रस्तावित अपात्र सूची में शामिल हैं वे दावा आपत्ति प्रस्तुत कर सकते हैं। प्रशासन ने ग्रामीण क्षेत्रों में दावा आपत्ति की सुनवाई के लिए शहरी क्षेत्रों में एसडीएम और ग्रामीण क्षेत्रों में तहसीलदार को अधिकृत किया है। इसके बाद दावा आपत्ति प्रस्तुत न करने वाले उपभोक्ताओं की पात्रता पर्ची को निरस्त करने की कार्रवाई विभाग द्वारा की जाएगी।

यहां देखेंगे आपात्र सूचीः उपभोक्ता अपात्र राशन गार्ड धारियों की सूची को एम-राशन एप व एम-राशन मित्र पोर्टल पर देख सकते हैं। इन एप पर उपभोक्ताओं केा अपनी आईडी लिखनी होगी। इसके बाद उपभोक्ता को मालुम हो जाएगा कि उसके राशन कार्ड पर कोई खतरा है या नहीं।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020