भिंड, नईदुनिया प्रतिनिधि। भिंड जिले के अटेर थाना क्षेत्र के मिश्रन का पुरा गांव के एक घर में पिछले चार दिन से कोबरा सांप ने अपना डेरा जमा लिया था। सांप कभी कमरे में जाता तो कभी आंगन में आराम करता नजर आता। इससे घर में रहने वाले लोग डर और खौफ में जी रहे थे। शुक्रवार को चौथे दिन वन विभाग के रेंजर सतेंद्र सिंह सिकरवार को सूचना मिली। उन्होंने कर्मचारी जयनारायण सिंह परिहार को संसाधना के साथ सांप को पकड़ने के लिए भेजा। वन विभाग की टीम पहुंची तो कोबरा सांप घर के आंगन में आराम करता मिला, लेकिन टीम को देखकर सांप खड़ा हो गया। काफी फुफकारा, लेकिन टीम ने 10 मिनट की मशक्कत के बाद सांप को पकड़कर बोरे में बंद किया। इसके बाद उसे जंगल में छोड़ दिया गया है।

रेंजर सतेंद्र सिंह सिकरवार के पास मिश्रन का पुरा निवासी प्रभाकर पुरोहित का फोन आया। उन्हाेंने बताया कि उनके घर में चार दिन पहले घर में काला कोबरा सांप आ गया है। सांप कभी कमरे में रहता है तो कभी घर के आंगन में नजर आता है। इससे बीते चार दिन से घर के लोग पास पड़ोसियों के यहां रात बिता रहे हैं। रेंजर ने सांप पकड़ने में एक्सपर्ट दैनिक वेतनभाेगी कर्मचारी जयनारायण सिंह परिहार को संसाधनाें के साथ प्रभाकर पुरोहित के घर भेजा। परिहार पहुंचे तो घर के आंगन में करीब पांच फीट लंबा काला कोबरा सांप आराम करता मिला। टीम ने उसे पकड़ने की कवायद शुरू की तो सांफ खड़ा हो गया। उसने फन उठाकर फुंफकार, लेकिन टीम ने उसे स्नैक कैचर की मदद से पकड़ लिया। पकड़कर सांप को बोरे में बंद किया गया। इसके बाद देहरा गांव के पास वन विभाग के जंगल में सांप को छोड़ दिया गया है। सांप पकड़ने के बाद घर के लाेगों ने राहत की सांस ली।

Posted By: vikash.pandey

NaiDunia Local
NaiDunia Local