भिंड. मालनपुर। मालनपुर थाने में पदस्थ हवलदार मनीष पचौरी और आरक्षक आशीष शुक्ला ने हरिराम की कुईया के पास स्थित फैक्ट्री में रविवार को एक युवक पर पिस्टल और कट्टा अड़ाकर 20 हज़ार रुपयों की मांग की। पुलिसकर्मियों ने युवक से कहा कि रुपये नहीं दिए तो हत्या के प्रयास के मामले में आरोपित बना देंगे। युवक ने ग्वालियर जाकर लोकायुक्त पुलिस में शिकायत की। आज बुधवार को लोकायुक्त पुलिस ने हवलदार मनीष पचौरी को 20 हज़ार की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ पकड़ लिया है।

यह है पूरा मामला:

मालनपुर निवासी विकास सिंह ने बताया रविवार को हरिराम की कुईया के पास बंद फैक्ट्ररी में मालनपुर थाने में पदस्थ हवलदार मनीष पचौरी और आशीष शुक्ला ने उसे मिलने के लिए बुलाया था। विकास का कहना है कि हवलदार मनीष पचौरी आरक्षक आशीष शुक्ला ने कहा कि 20 हज़ार रुपये दो नहीं तो हत्या के प्रयास के केस में फंसा दिया जाएगा। विकास का कहना है उसने रुपये देने से इनकार किया तो हवलदार मनीष पचौरी पिस्टल और आशीष शुक्ला ने कमर में घुरसा कट्टा निकालकर सीने पर अड़ा दिया। दोनों ने धमकाते हुए कहा कि 20 हज़ार रुपये नहीं दिए तो मारे जाओगे। विकास का कहना है कि उसने किसी तरह से दोनों पुलिसकर्मियों से अपनी जान बचाई। इसके बाद वह दूसरे दिन दोनों पुलिसकर्मियों से दोबारा मिला। दोबारा मिलने पर उसने मिन्नतें की, लेकिन हवलदार और आरक्षक उसे केस में फंसाने की धमकी देते रहे। पुलिसकर्मियों की धमकी से परेशान होकर विकास मंगलवार को ग्वालियर लोकायुक्त पुलिस के पास शिकायत करने पहुंचा। लोकायुक्त पुलिस ने विकास को टेप रिकॉर्डर दिया। मालनपुर आकर विकास ने हवलदार और आरक्षक से सम्पर्क किया। दोनों पुलिस थाने के सामने रोड पार विकास से मिले। यहां विकास ने दोनों से कहा कि रकम कुछ कम करलो, लेकिन दोनों पुलिसकर्मियों ने टीआई का नाम लेकर कहा 20 हज़ार रुपये ही चाहिए। कम नहीं लेंगे। पुलिसकर्मियों की रिकॉर्डिंग करने के बाद विकास वापस लोकायुक्त पुलिस के पास पहुंचा।

लोकायुक्त पुलिस ने ऐसे दबोच लिया हवलदार:

बुधवार दोपहर को लोकायुक्त पुलिस ने 20 रुपयों के नोटों में केमिकल लगाकर विकास जाटव को दिए, जो लोकायुक्त पुलिस टीम के साथ विकास ग्वालियर से मालनपुर आ गया। मालनपुर में विकास ने हवलदार मनीष पचौरी और आरक्षक आशीष शुक्ला से संपर्क किया। दोनों पुलिस थाने के बाहर आए। विकास से मुलाकात करने के बाद दोनों थाने में चले गए। विकास का कहना है कुछ देर बाद हवलदार मनीष पचौरी वापस आया। हवलदार और विकास ने बाजार में जाकर जूस पिया। वापस लौटते में हवलदार मनीष पचौरी ने विकास से रुपयों की मांग की। विकास ने रंग लगे रुपये हवलदार को थमा दिए। थाने में घुसने के दौरान हवलदार ने जैसे ही रिश्वत के 20 हज़ार रुपये पेंट की जेब में रखे तो विकास ने लोकायुक्त की टीम को इशारा कर दिया। लोकायुक्त पुलिस की टीम ने हवलदार को रिश्वत की रकम के साथ पकड़ लिया। पेंट की जेब से रिश्वत की रकम बरामद कर ली। हवलदार के हाथों को धुलवाया गया तो लाल रंग छूटने लगा। लोकायुक्त पुलिस की टीम मालनपुर थाने में कार्रवाई कर रही है।

Posted By: anil.tomar

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close