भोपाल (नवदुनिया प्रतिनिधि)। भोपाल व हबीबगंज रेलवे स्टेशन पर 10 रुपये का प्लेटफार्म टिकट अब 50 रुपये में मिलने लगा है। रेलवे ने इसके दाम बढ़ा दिए हैं। हालांकि पहले ही दिन गुरुवार को टिकट कम बिके। भोपाल स्टेशन पर पहले दिन केवल 195 यात्रियों ने टिकट खरीदे, जिससे रेलवे को 9750 रुपये राजस्व मिला। यह आंकड़ा शाम छह बजे तक का है। जबकि हबीबगंज स्टेशन पर 66 टिकट बिके, इससे 3300 रुपये रेलवे के खाते में पहुंचे। रात 12 बजे तक टिकट खरीदने वालों की संख्या में और इजाफा हुआ।

कोरोना संक्रमण के पूर्व सामान्य दिनों में भोपाल रेलवे स्टेशन से एक दिन में न्यूनतम 1800 और अधिकतम 2500 प्लेटफार्म टिकट बिकते थे। प्रति टिकट 10 रुपये के हिसाब से रेलवे को 1800 टिकट के 18 हजार रुपये और 2500 टिकट के 25 हजार रुपये मिलते थे। हालांकि पहले दिन टिकट कम बिकने की वजह कोरोना संक्रमण भी है। इस वजह से आम दिनों की तुलना में स्टेशनों पर यात्री भी कम ही पहुंच रहे हैं। सिर्फ उन्हीं यात्रियों ने प्लेटफार्म टिकट खरीदे, जो अपने परिवार के सदस्यों को ट्रेन में बैठाने आए थे।

मुंबई-दिल्ली में पहले से बढ़ी कीमत लागू

मुंबई व दिल्ली रेलवे स्टेशन पर पहले से प्लेटफार्म टिकट के दाम बढ़ाए जा चुके हैं। देश के सभी प्रमुख बड़े स्टेशनों पर 50 रुपये में प्लेटफार्म टिकट बेचा जा रहा है। रेलवे ने इसके पीछे तर्क दिया है कि दाम बढ़ाने से स्टेशनों पर भीड़ एकत्रित नहीं होगी।

भोपाल स्टेशन पर बीते तीन साल में प्लेटफार्म टिकट बिक्री की स्थिति

साल---टिकट संख्या---राजस्व (रुपये में)

2016-17---9,00,000---90,00,000

2017-18---9,15,000---91,50,000

2018-19---9,20,000---92,00,000

भोपाल स्टेशन

- ए-1 श्रेणी का स्टेशन है।

- 5000 से 10000 यात्री रोजाना कर रहे आना-जाना।

- 50000 से 80000 यात्री कोरोना के पहले सामान्य व शादी-अवकाश के दिनों में करते थे सफर।

- 134 ट्रेनें चौबीस घंटे में स्टेशन पर ठहराव लेकर चलती थीं सामान्य दिनों में।

- 92 ट्रेनें वर्तमान में स्टेशन से ठहराव लेकर चल रही हैं।

यहां प्लेटफार्म टिकट की कीमत 20 रुपये

संत हिरदाराम नगर, होशंगाबाद, इटारसी, बीना, हरदा, विदिशा, गंजबासौदा, अशोकनगर, गुना, शिवपुरी स्टेशनों पर प्लेटफार्म टिकट की कीमत 20 रुपये कर दी गई है। बाकी के स्टेशनों पर पूर्व की तरह 10 रुपये में प्लेटफार्म टिकट मिल रहे हैं।

यात्री बोले- रेलवे ने ठीक नहीं किया

रेलवे ने ठीक नहीं किया। पहले से कोरोना की वजह से लोगों की आर्थिक स्थिति ठीक नहीं हैं। ऐसे समय में रेलवे ने प्लेटफार्म टिकट के दाम बढ़ाकर बोझ डाला है।

- अबरार खान, (पत्नी को छोड़ने भोपाल स्टेशन आए थे)

कोरोना के पहले तक 50 रुपये में भोपाल से यात्री विदिशा पहुंच जाते थे। अब प्लेटफार्म में प्रवेश करने के लिए ही 50 रुपये देने पड़ रहे हैं। ऐसा सोचा नहीं था। रेलवे को पुनर्विचार करना चाहिए।

- बुद्धेश किरार, (पत्नी को छोड़ने भोपाल स्टेशन आए थे)

Posted By: Ravindra Soni

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags