MP Board : भोपाल (नवदुनिया प्रतिनिधि)। लॉकडाउन के कारण शैक्षणिक सत्र 2020-21 में स्कूल नहीं खुल पाए हैं। इस कारण स्कूलों में नए सत्र की शुरुआत नहीं हो पाई। अब स्कूल खुलेंगे, तो भी कोर्स पूरा कराना संभव नहीं है। इसे देखते हुए मप्र स्कूल शिक्षा विभाग कोर्स में कटौती करने की तैयारी में है। इसके लिए विभाग कमेटी गठित कर सिलेबस की समीक्षा कर रहा है। खासतौर पर 9वीं से 12वीं के कोर्स को छोटा किया जाएगा। शिक्षाविदें का कहना है कि प्रतियोगी परीक्षाओं के हिसाब से पहले ही मप्र स्कूली पाठ्यक्रम पर्याप्त नहीं माना जाता है, क्योंकि अभी तक तो एनसीईआरटी की किताबें लागू नहीं थीं। पिछले साल से 9वीं से 12वीं तक विज्ञान, गणित, सामाजिक विज्ञान, कॉमर्स आदि की किताबें एनसीईआरटी की ली गई हैं। अभी भी कुछ विषयों की किताबें मप्र बोर्ड की ही चलाई जा रही हैं। अगले साल तक भाषा और कला की किताबें भी एनसीईआरटी की ले ली जाएंगी। ऐसे में मप्र स्कूल शिक्षा विभाग पाठ्यक्रम को और भी छोटा करेगा तो इसका मतलब होगा विद्यार्थियों के लिए प्रतियोगी परीक्षाएं कठिन हो जाएंगी।

छुट्टियां कम कर पूरा करा सकते हैं पाठ्यक्रम

शिक्षाविदें का मानना है कि स्कूलों में छुट्टियां कम करके भी पाठ्यक्रम को छोटा करने से बच सकते हैं। इसके अलावा कालखंड बढ़ाकर भी कोर्स को पूरा किया जा सकता है। सालभर में स्कूल 280 दिन लगते हैं, लेकिन इस बार संभव नहीं है। इसके लिए अतिरिक्त कक्षाएं लगाकर सिलेबस को पूरा कर सकते हैं।

वार्षिक परीक्षा में देर कर सकते हैं

स्कूलों का पाठ्यक्रम न काटना पड़े। इसके लिए विभाग अपने स्कूलों को दिसंबर के पहले सप्ताह में पूरा करने के लिए कहता है। अगर पूरे दिसंबर पढ़ाया जाए और वार्षिक परीक्षा को फरवरी के बदले मार्च में लिया जाए तो कोर्स को पूरा किया जा सकता है।

9वीं से 12वीं के सिलेबस को आगे की प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए महत्वपूर्ण माना जाता है। अगर पाठ्यक्रम को छोटा किया जाएगा तो विद्यार्थियों को प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी में परेशानी होगी। -डीएस राय, शिक्षाविद्

स्कूली सिलेबस को छोटा करने से विद्यार्थियों को प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करने में कठिनाई होगी। प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए 9वीं से 12वीं का पाठ्यक्रम महत्वपूर्ण होता है। - सुनीता सक्सेना, शिक्षाविद्

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

जीतेगा भारत हारेगा कोरोना
जीतेगा भारत हारेगा कोरोना