भोपाल। (नवदुनिया प्रतिनिधि)। राजधानी के बाजारों में बढ़ी भीड़ से कोरोना संक्रमण का खतरा और भी बढ़ गया है। नवंबर-दिसंबर में लग्नसरा होने की वजह से बाजारों में पैर रखने की जगह तक नहीं मिल रही है। लोग जमकर खरीदारी कर रहे हैं, लेकिन वे शारीरिक दूरी के नियम का पालन करना भूल रहे हैं। कई लोग बिना मास्क के ही बाजार में घूमते हैं। शाम चार से आठ बजे के बीच भीड़ अधिक बढ़ जाती है। बुधवार को भी नए-पुराने शहर के बाजारों में खासी भीड़ रही।लखेरापुरा, सराफा, चौक, हनुमानगंज, घोड़ा नक्कास, हमीदिया रोड, रॉयल मार्केट, न्यू मार्केट, दस नंबर, करोंद, बैरागढ़ में बुधवार को पैर रखने तक की जगह नहीं मिली। लोग शादी-विवाह से जुड़ी जरूरत की हर चीज खरीदने पहुंचे। इस कारण कई बार जाम की स्थिति भी निर्मित हुई।

बिना मास्क के भी बाजारों में घूमते हैं ग्राहक

शहर में प्रतिदिन 300 से अधिक पॉजीटिव मिलने के बाद बाजारों में फिर से पाबंदियां लगा दी गई हैं। दुकानें रात आठ बजे तक ही खुली रहेगी। दूसरी ओर दुकानदार भी सुरक्षित तरीके से खरीदारी करने की बात ग्राहकों से कह रहे हैं। बावजूद अधिकांश ग्राहक शारीरिक दूरी का पालन नहीं करते और न ही मास्क पहनते हैं।

दुकानदार दे रहे समझाईश

न्यू मार्केट व्यापारी महासंघ के सचिव अजय देवनानी ने बताया कि ग्राहकों को जागरूक करने के लिए नियमित रूप से अनाउंसमेंट कराया जा रहा है। साथ ही दुकानदार भी ग्राहकों से शारीरिक दूरी रखने एवं मास्क लगाने का कहते हैं। ताकि संक्रमण न फैले। थोक किराना व्यापारी महासंघ के महासचिव अनुपम अग्रवाल ने बताया कि थोक किराना दुकानों में मास्क अनिवार्य किया गया है। बिना मास्क के सामान नहीं दिया जाता। इसके अलावा दुकानदार खुद मास्क का वितरण कर रहे हैं।

Posted By: Ravindra Soni

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस