भोपाल, नवदुनिया प्रतिनिधि। बिहार व उत्तर प्रदेश समेत देश के कई इलाकों में 'अग्‍निपथ' योजना के विरोध में किए जा रहे विरोध प्रदर्शन के चलते शुक्रवार सुबह 11 बजे तक रेलवे 35 ट्रेनों को रद कर चुका है। 15 से अधिक ट्रेनों को तय स्टेशन से पहले रोक दिया है, लेकिन इनमें भोपाल रेल मंडल से गुजरने वाली एक भी ट्रेन नहीं है। तब भी भोपाल रेल मंडल के भोपाल, रानी कमलापति, संत हिरदाराम नगर, बीना, गुना, इटारसी, हरदा समेत अन्य स्टेशनों से सफर शुरू करने वाले यात्री सतर्क रहें।

यात्रा शुरू करने से पहले अपनी ट्रेनों की स्थिति पता कर लें। यह पता लगाना बहुत ही आसान है। यदि एंड्रायड मोबाइल उपयोग करते हैं तो रेलवे के नेशनल ट्रेन इंक्वायरी सिस्टम पर जाएं, यहां ट्रेन का नंबर डालें। जिसमें पता चलेगा कि ट्रेन कहां है, आपके स्टेशन पर कब पहुंचेगी। यदि ट्रेन निरस्त की जाती है तो इसकी जानकारी भी इस पर दिखाई जाएगी। मोबाइल का उपयोग नहीं करते हैं तो वह रेल सुविधा नंबर 139 पर फोन करें और अपनी यात्रा का विवरण बताते हुए ट्रेन की स्थिति जान लें।

स्टेशन पर हैं तो यह करें

- आरक्षण कराया है तो मोबाइल पर आने वाले संदेशों की जांच करते रहें। ट्रेन के रद होने व उसे तय स्टेशन से पहले रद करने के संबंध में रेलवे संदेश प्रेषित कर रहा है।

- स्टेशन पहुंच गए हैं तो पूछताछ खिड़की पर चले जाएं और वहां से ट्रेन के बारे में पता कर सकते हैं।

ट्रेन रद हो गई तो पूरा किराया मिलेगा

यदि ट्रेन रद कर दी गई है तो रेलवे पूरा किराया देगा। इसके लिए परेशान होने की जरूरत नहीं है। रेलवे के काउंटर से टिकट बनवाया है तो वहीं से रुपये वापस मिलेंगे। यदि टिकट आनलाइन खरीदा है और वह कंफर्म हो गया था तो उसके लिए आनलाइन प्रक्रिया अपनानी होगी, जो बहुत ही आसान है।

यह है विरोध की वजह

सेना में भर्ती के लिए अग्निपथ योजना लाई गई है। जिसको लेकर कुछ लोग नाराज हैं। इनमें बिहार व उत्तरप्रदेश के कुछ लोग शामिल हैं, जिनमें ज्यादातर युवा हैं। बिहार के बक्सर, समस्तीपुर, मुंगेर, लखीसराय और बिहार के बलिया, चंदौली, बनारस स्टेशनों व आसपास के क्षेत्रों में विरोध प्रदर्शन किया जा रहा है। रेलवे बोर्ड द्वारा बताया गया है कि प्रदर्शनकारी 22 ट्रेनों को नुकसान पहुंचा चुके हैं।

Posted By:

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close