भोपाल (नईदुनिया प्रतिनिधि)। मध्‍य प्रदेश के लिए खतरे की घंटी है। पिछले 24 घंटे में प्रदेश में कोरोना के 23 मरीज मिले हैं। उधर, पिछले चार दिन में दो लोगों की मौत भी कोरोना से हो गई है। इसके बाद भी लोग नहीं चेत रहे हैं। भीड़ में भी न मास्क, न ही शारीरिक दूरी रखी जा रही है। यह हाल तब है जब दक्षिण अफ्रीका में कोरोना के नए वैरिएंट ने दस्तक दे दी है।

इसकी बहुत ज्यादा संक्रामकता की वजह से पूरी दुनिया चिंतित है। स्वास्थ्य विभाग द्वारा शनिवार को जारी हेल्थ बुलेटिन के अनुसार शुक्रवार को प्रदेश में कोरोना के 23 मामले सामने आए हैं। इनमें 12 मरीज इंदौर, सात भोपाल, तीन रायसेन और एक मरीज जबलपुर का है।

करीब महीने भर बाद इतने मरीज मिले हैं। प्रदेश में फिलहाल कोरोना के सक्रिय मरीजों की संख्या 112 है। इनमें सबसे अधिक 39 मरीज इंदौर में और 32 मरीज भोपाल में हैं। पिछले एक हफ्ते में सबसे ज्यादा मरीज भोपाल में ही मिले हैं। इंदौर में 38 सक्रिय मरीज हैं। हालांकि, यह अच्छी बात है कि प्रदेश में कुल सक्रिय मरीजों में 90 फीसद होम आइसोलेशन में हैं।

इनका कहना है

कोरोना के मरीज बढ़ रहे हैं। अभी यह नहीं कह सकते कि मरीजों के बढ़ने की ट्रेंड क्या रहेगी, लेकिन नए-नए वैरिएंट आ रहे हैं, इसलिए बेहद सतर्क रहने की जरूरत है। टीका लगवाने में बिल्कुल भी कोताही न करें। मौसम में उतार-चढ़ाव के दौरान वैसे भी वायरस से होने वाली बीमारियां बढ़ती हैं। मास्क लगाएं और हाथ साबुन या सेनिटाइजर से साफ करते रहें तो दूसरी संक्रामक बीमारियों से भी बचे रहेंगे।

- डा. लोकेन्द्र दवे, राज्य सलाहकार, कोविड-19

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

NaiDunia Local
NaiDunia Local