मुख्यमंत्री ने की ग्लोबल इंवेस्टर्स समिट और प्रवासी भारतीय दिवस सम्मेलन की तैयारियों की समीक्षा

भोपाल (राज्य ब्यूरो)। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ग्लोबल इंवेस्टर्स समिट और प्रवासी भारतीय दिवस सम्मेलन की तैयारियों की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि सभी विभाग निवेश बढ़ाने के लिए प्रयास करें। आमंत्रित प्रतिनिधियों के सम्मान और सभी व्यवस्थाओं का ध्यान रखा जाए। जो प्रतिनिधि श्री महाकाल महालोक उज्जैन जाना चाहते हों, उन्हें भी आवश्यक सुविधाएं उपलब्ध करवाई जाएं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि ग्लोबल इंवेस्टर्स समिट और प्रवासी भारतीय सम्मेलन में विभिन्न देशों से महत्वपूर्ण प्रतिनिधियों को आमंत्रित किया गया है। उद्देश्य यह है कि देश-विदेश के महत्वपूर्ण औद्योगिक संस्थान मध्य प्रदेश में अधिक से अधिक निवेश करें। औद्योगिक नीति एवं निवेश प्रोत्साहन विभाग के साथ ही अन्य विभागों के परस्पर समन्वय से इस समिट और सम्मेलन को अच्छी सफलता मिलेगी।

विशेष रूप से ऊर्जा, पर्यटन, कृषि, खाद्य प्रसंस्करण, रियल एस्टेट आदि क्षेत्रों में उपलब्ध संभावनाओं के अनुरूप निवेश आने में आसानी होगी। उल्लेखनीय है कि आठ से 10 जनवरी 2023 तक प्रवासी भारतीय दिवस सम्मेलन और 11 एवं 12 जनवरी 2023 को इंदौर में ग्लोबल इंवेस्टर्स समिट होगी। प्रमुख सचिव मनीष सिंह ने बताया कि देश के प्रमुख औद्योगिक संस्थान के साथ ही विभिन्न देशों के प्रतिनिधियों से बात हुई है। वे मध्य प्रदेश में निवेश के लिए इच्छुक हैं। बैठक में मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस, अपर मुख्य सचिव मोहम्मद सुलेमान सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close