भोपाल। नवदुनिया प्रतिनिधि। बारिश के चलते बीमारियां बढ़ने की आशंका है। डॉक्टरों का कहना है कि इस मौसम में नमी ज्यादा होने से खांसने-छींकने से निकलने वाली बूदें जल्दी नहीं सूखतीं। इस कारण कोरोना के संक्रमण का खतरा ज्यादा रहता है।

इसके अलावा स्वाइन फ्लू और मच्छर से होने वाली बीमारियां डेंगू, चिकनगुनिया और जीका का खतरा भी रहेगा। डॉक्टरों ने सलाह दी है कि बारिश के मौसम में ज्यादा सतर्क रहें। शारीरिक दूरी का पालन करें। मास्क जरूर लगाएं।

एक निजी मेडिकल कॉलेज में मेडिसिन विशेषज्ञ डॉ. आदर्श वाजपेयी ने कहा कि दिन में कभी धूप तो कभी बारिश के चलते ठंडक होने से सर्दी-खांसी और हल्का बुखार वाले मरीज करीब 20 फीसद बढ़ गए हैं।

बच्चों को वायरल फीवर, डेंगू, मलेरिया व स्किन में दाने निकलने का खतरा बारिश में रहता है। उन्हें साफ और उबला पानी पिलाएं। ताजा खाना दें। दूसरों के संपर्क में न आने दें

डॉ. ज्योत्सना श्रीवास्तव एचओडी, शिशु रोग, हमीदिया

बारिश के दिनों में कंजेक्टिवाइटिस के केस बढ़ जाते हैं। इसमें आंखें लाल हो जाती हैं। आंखों में सूजन और खुजली होती है। बचने के लिए जरूरी है कि बार-बार ऑख मे हाथ न लगाएं। साफ पानी से आंखों को धोते रहें।

डॉ. विवेक सोम प्रोफेसर, नेत्र रोग विभाग, हमीदिया

बारिश के दिनों में एलर्जी पैदा करने वाले तत्व ज्यादा हो जाते हैं। लॉकडाऊन खुलने से प्रदूषण भी बढ़ा है। ऐसे में अस्थमा के मरीजों की परेशानी बढ़ने लगी है। एक बार उपयोग किए जाने वाले सर्जिकल मास्क का उपयोग बार-बार नहीं करना चाहिए। तीन परत का कपड़े का मास्क घर में ही बना सकते हैं।

डॉ. विकास मिश्रा छाती व श्वास रोग विशेषज्ञ

यह रखें सावधानी

-बासा खाना या ज्यादा तेल-मसाला वाली चीजें न खाएं। हो सके तो पानी उबालकर पीएं। भीगने से बचें। दूसरों से कम से एक मीटर दूर रहें। भीगा हुआ मास्क उपयोग न करें।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Ram Mandir Bhumi Pujan
Ram Mandir Bhumi Pujan