भोपाल, नवदुनिया प्रतिनिधि, Coronavirus Bhopal News:। रेमडेस‍िव‍िर इंजेक्‍शन समय पर नहीं मिल रहे। अस्‍पतालों में बिस्‍तर नहीं है। कोरोना जांच की रिपोर्ट समय पर नहीं आ रही है। इन सभी समस्‍याओं को देखते हुए सोमवार दोपहर 3 बजे से उपवास पर बैठे पूर्व मंत्री पीसी शर्मा ने आज 21 घंटे बाद दोपहर 12 बजे जूस पीकर उपवास खत्‍म किया। इस दौरान उन्‍होंने सरकार से आग्रह किया कि इंदौर और भोपाल में संक्रमण रोकने की व्‍यवस्‍थाएं मिलिट्री को सौंपी जाए। उन्‍होंने बताया कि उनकी हाईकोर्ट में लगाई गई याचिका पर ही जरूरतमंद लोगों को एक घंटे के अंदर रेमडेस‍िव‍िर इंजेक्‍शन देने के लिए आदेश जारी किया गया है। वहीं आरटीपीसीआर की रिपोर्ट 36 घंटे के भीतर देने के आदेश हाईकोर्ट ने दिए है। 6 मई तक सरकार ने सभी व्‍यवस्‍थाएं नहीं की तो वे कोर्ट के आदेश का उल्‍लंघन का मामला दर्ज कराएंगे।

बता दें कि भोपाल में यह गोरखधंधा भी सामने आया था कि अपर कलेक्‍टर माया अवस्‍थी जिन लोगों के नाम पर्ची पर लिखकर देती थीं, सिर्फ उन्‍हें ही 1250 अस्‍पताल के पास स्थित मालवीय भवन से रेमडेसिविर इंजेक्‍शन उपलब्‍ध हो रहा था। पर्ची से वीआईपी लोगों को रेमडेसिविर इंजेक्‍शन उपलब्‍ध कराने के मामले में अपर कलेक्‍टर माया अवस्‍थी और डिप्‍टी कलेक्‍टर अंकिता त्रिपाठी को जिम्‍मेदारी सौंपी गई थी। सोमवार को जब पूर्व मंत्री व कांग्रेस विधायक पीसी शर्मा को इस बात का पता चला तो उन्‍होंने मालवीय भवन पहुंचकर यहां उपस्थित कर्मचारी से इस बारे में पूछताछ की। इस पर कर्मचारी ने स्‍पष्‍ट कहा कि अपर कलेक्‍टर माया अवस्‍थी जिनकी पर्ची पहुंचाती थीं, उनके निर्देश पर ही रेमडेसिविर इंजेक्‍शन दे दिया जाता था। इधर, इस पूरे मामले से नाराज होकर पीसी शर्मा अपने निवास के बाहर 21 घंटे के उपवास पर बैठ गए थे।

Posted By: Ravindra Soni

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

 
Show More Tags