भोपाल, नवदुनिया प्रतिनिधि। देश इस वक्‍त 'आजादी का अमृत महोत्सव' मना रहा है। स्‍वतंत्र भारत की सुदीर्घ यात्रा में आए इस ऐतिहासिक पड़ाव का जश्न मनाने के लिए सेना की शाहबाज डिवीजन ने शनिवार को पथरोटा से भोपाल तक एक साइकिल रैली को रवाना किया। इस साइकिलिंग अभियान के तहत भारतीय सेना के 12 साइकिल चालकों की टीम दस दिनों में 514 किलोमीटर की दूरी तय करेगी। साइकिल पर सवार अभियान दल 15 अगस्त को भोपाल पहुंचेगा, जहां पर समापन समारोह होगा। शाहबाज डिवीजन के जीओसी मेजर जनरल भावनीश कुमार ने साइकिल रैली में शामिल जवानों से मुलाकात की और 'आजादी का अमृत महोत्सव' में योगदान देने के उनके प्रयास की सराहना की।

ब्रिगेडियर सोहल ने झंडी दिखाकर रवाना किया

साइकिलिंग अभियान को होशंगाबाद जिले के पथरोटा से ब्रिगेडियर एनएस सोहल ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। दस दिनों का अभियान पिपरिया, पंचमढ़ी, सारनी, बरेठा, केसला को कवर करेगा और अंत में भोपाल में समाप्त होगा। यह अभियान युवा भारतीयों की राष्ट्रवाद के प्रति ऊर्जा को बढ़ाने और हमारे देश की आजादी के लिए सर्वोच्च बलिदान देने वालों को श्रद्धांजलि देने के व्यापक उद्देश्य के साथ घने जंगलों, पहाड़ों और नदी के इलाकों के माध्यम से अपना रास्ता तय करेगा। साइकिल चालक स्कूली बच्चों, दूरदराज के इलाकों और कस्बों में स्थानीय लोगों के साथ बातचीत करेंगे और उन्हें भारतीय सेना में शामिल होने के लिए प्रेरित करेंगे। वे पूर्व सैनिकों और भारतीय सेना की वीर नारियों से भी बातचीत करेंगे और उन्हें आश्वस्त करेंगे कि भारतीय सेना हमेशा उनके साथ खड़ी रहेगी और सेवा और बलिदान के उनके योगदान को कभी नहीं भूलेगी। उल्लेखनीय है कि इन दिनों देश भर में आजादी का अमृत महोत्सव बनाने की तैयारी की जा रही है। नागरिकों को देशभक्ति की प्रेरणा देने के लिए घर-घर तिरंगा लगाने की तैयारी भी की जा रही है नागरिक भी स्वप्रेरणा से इस अभियान में शामिल होते जा रहे हैं।

Posted By: Ravindra Soni

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close