200 मूर्तियां, 51 फोटो और 108 चाबियों के इमोशंस

- भारत भवन में चंडीगढ़ कैनवास प्रदर्शनी, 145 पेंटिंग्स, 2 इंस्टॉलेशन और 18 स्कल्पचर्स

भोपाल। नवदुनिया रिपोर्टर

भारत भवन की मॉर्डन आर्ट गैलरी रूपंकर में जारी 'चंडीगढ़ कैनवास' प्रदर्शनी में कलाकारों की खूबसूरत कृतियां देखने का मौका मिल रहा है। प्रदर्शनी में चंडीगढ़ के फोटोग्राफर गुरदीप ने वॉकिंग इमोशंस दिखाए हैं। वे कहते हैं कि इसे मैंने तीन साल में तैयार किया है। इसमें 200 मूर्तियां, 51 फोटो और 108 चाबियों का इस्तेमाल किया है। इसके लिए मैंने उन लोगों के फोटो लिए, जिन्हें बच्चों ने घर से बेघर किया है। इसमें लद्दाख, पंजाब, हिमाचल और यूपी की कुछ जगह की फोटो हैं। वहीं कचरे-कूड़े, सूखी नदी और तालाब से मूर्तियां लीं। बिबेकानंद कापरी ने लोहे से स्कल्पचर बनाया है, जिसमें खराब लौहे का प्रयोग किया है। इसकी लंबाई 37 इंच और चौड़ाई 10 इंच है। चंडीगढ़ ललित कला अकादमी के सहयोग से आयोजित प्रदर्शनी कलाकारों के काम को दिखाती है। 30 अप्रैल तक चलने वाली इस प्रदर्शनी का अवलोकन दोपहर 2 बजे से रात 8 बजे तक किया जा सकता है। प्रदर्शनी में 145 पेंटिंग्स, 2 इंस्टॉलेशन और 18 स्कल्पचर्स प्रदर्शित किए गए हैं।