भोपाल, नवदुनिया प्रतिनिधि। भेल यूनियन के चुनाव गुरुवार को हुए। सुबह आठ से शाम पांच बजे तक मतदान हुआ था। देर रात चुनाव के परिणाम आए। इसमें भारतीय मजदूर संघ (बीएमएस) को 657 वोट मिले। पहले नंबर पर यूनियन आई। दूसरे नंबर पर एचएमएस यूनियन आई है। जिसे 488 वोट मिले हैं। तीसरे पर भेल आल इंडिया एम्प्लाई यूनियन (एबु) आई है। एबु को 474 वोट मिले हैं। वहीं सीटू यूनियन चौथे स्थान आई है। इंटक यूनियन को हार का सामना करना पड़ा है। इसके बाद जीतने वाली प्रमुख तीन यूनियनों ने जीत की खुशियां मनाईं। पटाखे फोड़कर जीत की खुशी जताई। बता दें कि चार साल के कार्यकाल के लिए भेल यूनियन के चुनााव होते हैं। मतों के आधार पर नंबर एक, दो और तीन प्रतिनिधि यूनियन चुनते हैं। ये तीनों यूनियनों के पदाधिकारी भेल प्रबंधन की चिकित्सा, शिक्षा, कैंटीन सहित अन्य समितियों में सदस्य बनाए जाते हैं। इससे यूनियनों के पदाधिकारी कर्मचारियों की समस्याएं भेल प्रबंधन के समक्ष उठा सकें।

95.86 प्रतिशत हुआ मतदान

साल 2016 के बाद भेल कारखाने में हुए यूनियन चुनाव के लिए कर्मचारियों ने मतदान किया। मतदान 2846 में से 2727 कर्मचारियों ने अपने मत का प्रयोग किया। 95.86 कर्मचारियों ने मतदान किया। मतदान के लिए कुल 10 बूथ बनाए गए थे। इनमें नौ भेल कारखाने और एक बूथ भेल नगर प्रशासक कार्यालय में बनाया गया।

शांति से मतदान हुआ

गुरुवार को सुबह आठ बजे से मतदान के लिए कर्मचारी बूथेा पर पहुचने लगे थे, जो कर्मचारी पहली शिफ्ट में ड्यूटी करने आए थे। उन्होने पहले मतदान किया। इसके बाद क्रमश: मतदान की रफ्तार तेज ही रहे। सुबह लगभग 11 बजे तीन नंबर ब्लाक में एचएमएस के कार्यकर्ता और एबू के अध्यक्ष रामनारायण गिरी के बीच कुछ कहासुनी जरूर हुई, लेकिन उसके बाद शाम पांच बजे तक शांति से मतदान हुआ। कर्मचारियों ने उत्साह से कतार में लग कर मतदान किया।

Posted By: Lalit Katariya

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close