भोपाल, नवदुनिया प्रतिनिधि। ईंटखेड़ी इलाके में एक पखवाड़ा पहले हुए सडक हादसे में घायल किसान ने अस्पताल में इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। इस हादसे में किसान के घायल भतीजे की पहले ही मौत हो चुकी है, जबकि गंभीर रूप से घायल हुए भांजे का इलाज चल रहा है। पुलिस ने मर्ग कायम कर लिया है। पोस्‍टमार्टम के बाद शव परिजन को सौंप दिया गया है।

पुलिस के मुताबिक जितेंद्र साहू (37) ग्राम भैंसाखेड़ी थाना खजूरी सड़क पर रहते थे और किसानी करते थे। गत 6 मई को वह अपने भतीजे मनीष साहू (14) और करोंद में रहने वाले भांजे राज साहू (14) के साथ बाइक से तरावली मंदिर दर्शन करने गए थे। वहां से जब तीनों भैंसाखेड़ी लौट रहे थे, तभी मीना चौराहे पर पहुंचते ही एक तेज रफ्तार कार ने उनकी बाइक को टक्कर मार दी थी। हादसे के बाद सभी को अस्पताल ले जाया गया था। अगले दिन इलाज के दौरान मनीष साहू की मौत हो गई थी। जितेंद्र को भी गंभीर चोट लगी थी। शुक्रवार-शनिवार की दरमियानी रात उन्होंने भी दम तोड़ दिया। हादसे में घायल राज का इलाज चल रहा है। पुलिस का कहना है कि टक्कर मारने वाले वाहन और चालक की तलाश की जा रही है।

जहां हादसा हुआ, वहां फर्राटा भरते हैं वाहन

अचारपुरा से होकर मुख्य सड़क आने पर चाचा-भतीजे की बाइक को कार ने टक्कर मार दी थी। जिस जगह हादसा हुआ, वह दुर्घटना संवेदी क्षेत्र है। वहां तेज रफ्तार से वाहन निकलते हैं और क्रासिंग में अक्‍सर हादसे होते हैं। इसके बावजूद पुलिस ने वहां हादसे रोकने के लिए कोई इंतजाम नहीं किया है। हादसे के बाद चालक कार को भगाकर ले गया था। इतने दिन बीतने के बाद पुलिस उस कार की तलाश नहीं कर पाई है। मृतक के परिवार का कहना है कि हादसे में 15 दिन में दो मौतों के बाद भी पुलिस इस मामले को गंभीरता से नहीं ले रही है। जल्द ही आरोपित कार चालक को खोजकर हिरासत में नहीं लिया गया, तो वह आंदोलन करेंगे।

Posted By: Ravindra Soni

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close