दिलीप मंगतानी, भोपाल। राजधानी से इंटरनेशनल उड़ानें शुरू होते ही भोपाल के एयर पैसेंजर्स को स्मार्ट यात्रा का अनुभव होगा। एयरपोर्ट अथारिटी और सीआईएसएफ मिलकर एयरपोर्ट को पैसेंजर फ्रेंडली बनाने में जुट गई हैं। अंतरराष्ट्रीय उड़ानें शुरू होने से पहले ही एयरपोर्ट पर सीआईएसएफ का अतिरिक्त बल तैनात किया जाएगा। फुल बाडी स्कैनर लगाए जांएगे। इसके लिए ट्रेंड जवान भी तैनात होंगे। राजा भोज एयरपोर्ट पर कस्टम चैक पोस्ट बनाने की स्वीकृति मिलते ही एयरपोर्ट अथारिटी ने इंटरनेशनल अराइवल एवं डिपार्चर एरिया विकसित करने की तैयारियां शुरू कर दी हैं। इमिग्रेशन काउंटर खोलने के साथ ही सीआईएसएफ का अतिरिक्त अमला यहां तैनात किया जाएगा। इंटरनेशनल उड़ानों की सुरक्षा के लिए प्रशिक्षित स्टाफ तैनात होगा। भोपाल में वर्तमान में जवानों की संख्या 180 है। इस साल नई उड़ानें शुरू होने के साथ ही जवानों की संख्या बढ़ाने की जरूरत महसूस की जा रही थी। अब इंटरनेशनल उड़ानें शुरू होने की कयावद शुरू हो गई है।

इसे देखते हुए अथारिटी ने जवानों की संख्या बढ़ाने की सिफारिश की है। ब्यूरो ऑफ सिविल एविएशन सिक्युरिटी (बीसीएएस) इसके लिए जरूरी सर्वे करेगी। इसके बाद जवानों की नई खेप भोपाल आएगी। संयुक्त सर्वे समिति पहले इसकी अनुशंसा भी कर चुकी है।

अब स्मार्ट यात्रा का अनुभव कराएंगे

एयरपोर्ट अथारिटी का प्रयास है कि इंटरनेशनल उड़ानें शुरू होने से पहले सभी जरूरी सुविधाएं जुटा ली जाएं। इसके तहत जल्द ही फुल बॉडी स्कैनर लगाए जाएंगे। इनका संचालन सीआईएसएफ के प्रशिक्षित जवानों के हाथों में होगा। ट्रेंड स्टाफ यात्रियों की सुरक्षा जांच के साथ ही उन्हें स्मार्ट बैगेज पैकिंग में भी मदद करेगा। एयरपोर्ट्‌स पर सुरक्षा की दृष्टि से हथियार, चाकू, लाइटर, पटाखे आदि सहित अनेक सामान ले जाने पर पाबंदी है। ट्रेंड जवान यात्रियों को फाइनल चेकलिस्ट बनाने में भी मदद करेंगे। यात्रियों को बताया जाएगा कि एयरपोर्ट आने से पहले वे क्या तैयारी करें।

प्रतिबंधित वस्तुओं की सूची लगेगी

एयरपोर्ट के इंटरनेशनल डिपार्चर एरिया में यात्रा के दौरान प्रतिबंधित वस्तुओं की सूची भी प्रदर्शित की जाएगी। कई बार ऐसे मामले सामने आए हैं जब यात्रियों के पास रिवाल्वर या कारतूस आदि के वैध लाइसेंस होते हैं लेकिन उन्हें यह पता नहीं होता कि ऐसी वस्तुओं को चैक्ड बैगेज की श्रेणी में रखा गया है। इसके लिए अलग से बुकिंग करानी होती है। हैंड बैगेज या कैरी बैग में इन्हें नहीं ले जाया जा सकता। जवानों की संख्या जल्द ही बढ़ेगी

नागर विमानन सुरक्षा ब्यूरो से अनुमति मिलते ही भोपाल में सीआईएसएफ के जवानों की संख्या बढ़ जाएगी। इंटरनेशनल उड़ानों से यात्रा करने वाले यात्रियों की सुरक्षा जांच का जिम्मा ट्रेंड स्टाफ को दिया जाएगा। इसकी तैयारियां की जा रही हैं। - वीरेंद्रसिंह, डिप्टी कमांडेंट एयरपोर्ट सुरक्षा प्रभारी बॉडी स्कैनर की स्वीकृति मांगी है

इंटरनेशनल एयरपोर्ट के मापदंड के अनुरूप जरूरी सुविधाएं जुटाने का काम प्रारंभ हो गया है। दिल्ली मुख्यालय से फुल बॉडी स्कैनर की स्वीकृति मांगी गई है। सुरक्षा की दृष्टि से जवानों की संख्या बढ़ाने का प्रस्ताव है। इसमें कुछ समय लग सकता है। - अनिल विक्रम, एयरपोर्ट डायरेक्टर

Posted By: Nai Dunia News Network