भोपाल। बड़े तालाब के कैचमेंट में बने शादी हॉल को तत्काल बंद करवाएं। नगर निगम के अधिकारी अपनी कार्रवाई में तेजी लाएं। कोचिंग सेंटर्स की जांच रिपोर्ट दो दिन के अंदर दें। जो कोचिंग सेंटर जांच में सही नहीं पाए गए हैं उन्हें तत्काल सील करवाया जाएं। यह निर्देश मंगलवार को कलेक्टर तरुण पिथोड़े ने समय सीमा की बैठक में नगर निगम सहित अन्य अफसरों को दिए।

कलेक्टर ने सभी एसडीएम को निर्देश दिए कि उनके क्षेत्र में आने वाले शादी हॉल और कोचिंग सेंटरों की यदि जांच नहीं की है तो दो दिन के अंदर जांच कर इसकी रिपोर्ट दें। अधूरी रिपोर्ट से काम नहीं चलेगा। 15 अगस्त तक किसी भी हालत में पूरी रिपोर्ट उपलब्ध कराई जाएं। इधर, कलेक्टर ने निगम अधिकारियों को ड्रोन कैमरे से बड़े तालाब का एफटीएल सर्वे करने के निर्देश भी दिए।

बैठक में सभी अनुविभागीय अधिकारियों से लंबित राजस्व प्रकरणों पर जानकारी प्राप्त की एवं निर्देशित किया कि राजस्व प्रकरणों का निराकरण शिविर लगाकर करें। बैठक में कलेक्टर ने खाद्य, स्वास्थ्य, शिक्षा, महिला एवं बाल विकास, श्रम, विद्युत आदि विभागों के लंबित प्रकरणों की भी समीक्षा की।

पांच पेट्रोल पंप के विरुद्घ प्रकरण दर्ज

कलेक्टर ने शहर के पेट्रोल पंपों पर पीयूसी मशीनें नहीं होने के दोषी पाए गए पेट्रोल पंपों पर सख्त कार्रवाई करने के निर्देश दिए। इस पर बताया गया कि पीयूसी मशीनें नहीं होने पर वेदांत पेट्रोल पंप भौरी, फिल एंड फ्लाई पेट्रोल पंप नेहरू नगर, एचपी ऑटो सेंटर पीएंडटी चौराहा, पुलिस कल्याण नेहरू नगर पेट्रोल पंपों के विरुद्घ कार्रवाई करते हुए प्रकरण दर्ज किए गए हैं।

बिना अनुमति न की जाए सड़कों की मरम्मत

बैठक में कलेक्टर ने नगर निगम अधिकारियों को निर्देश दिए कि पीडब्ल्यूडी, सीपीए अथवा अन्य किसी भी एजेंसी की सड़क हो उस पर कोई भी कार्य करने के पूर्व अनुमति ली जाए तथा कार्य उपरांत सड़क का समतलीकरण कर पूर्व की भांति बनाया जाए। बैठक में सीएम हेल्प लाइन, कलेक्टर की कलम से एवं सीनियर सिटीजन हेल्प डेस्क के लंबित प्रकरणों पर भी चर्चा की गई।

Posted By: Nai Dunia News Network