Bhopal Crime News: भोपाल, नवदुनिया प्रतिनिधि। फर्जी बही बनाकर जमानत कराने वालों में लंबे समय से फरार दो आरोपितों को क्राइम ब्रांच ने गिरफ्तार किया है। आरोपित फर्जी बही मामले में मुख्य अारोपित जीवन मीणा का सहयोगी रहे हैं। 2015 में गिरफ्तार होने के वह फरार हो गए थे। आरोपित लोगों के फर्जी बही बनाकर जमानत करवाते थे। आरोपित अपने ठिकाने बदल - बदलकर कर फरारी काट रहे थे। आरोपित से कई फर्जी बही जब्त की थी।

अतिरिक्त पुलिस आयुक्त के मुताबिक वरिष्ठ अधिकारियों एवं पुलिस उपायुक्त अपराध अमित कुमार एवं अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त शैलेन्द्र सिंह चौहान के मार्गदर्शन एवं सहायक पुलिस आयुक्त अपराध शिवपाल सिंह कुशवाहा के दिशा निर्देशन में क्राइम ब्रांच की विशेष टीम द्वारा फर्जी बही मामले में फरार आराेपित बदमाशों तलाश के लिए टीम रवाना की गई थी। मुखबिर से सूचना मिली कि फर्जी बही मामले में चार साल से फरार चल रहे आरोपित में मूलचंद

उर्फ देवी लाल जो कि भोपाल के कोहेफिजा क्षेत्र मे घूम रहा है जो थाना क्राइम ब्रांच के फरार चल रहा है और दूसरा आरोपित भगवान दास सिंह मीणा निवासी म.न. 56 न्यू कालोनी बैरागढ़ थाना बैरागढ़ भोपाल मुखबिर की सूचना

से वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत करा कर दिशा निर्देश प्राप्त कर स्टाफ के मुखबिर द्वारा बताये गये स्थान पुराना आरटीओ कार्यालय कोहेफिजा में पहुंचे। जहां पर एक व्यक्ति पुलिस को देख कर भागने प्रयास कर रहा था।उसे घेराबंदी कर पकड़ा नाम पता पूछने पर फरार आरोपित ने अपना नाम मूलचंद उर्फ देवी लाल 56 साल नि. ग्राम कौड़िया थाना खजूरी सडक भोपाल बताया ।उसे मौके पर गिरफ्तार कर थाना क्राइम ब्रांच लेकर आए और दूसरे

आरोपित आकाश गार्डन के पास सिहोर रोड बैरागढ पर जाकर देखा तो एक व्यक्ति अपने आप को छुपाकर भागने की कोशिश कर रहा है घेराबंदी कर पकड़ कर नाम पता पूछा पर अपना नाम भगवान दास सिहं 35 साल निवासी म.न. 56 न्यु कालोनी बैरागढ़ थाना बैरागढ़ भोपाल बताया। उसे मौके पर गिरफ्तार कर थाना क्राइम

ब्रांच लेकर आए।

Posted By: Lalit Katariya

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close