Bhopal Crime News: भोपाल, नवदुनिया प्रतिनिधि। एमपी नगर के बोर्ड ऑफिस चौराहे पर तेज रफ्तार कार ने एंबुलेंस को टक्कर मार दी। टक्कर लगने से ए्बुलेंस में सवार मरीज घायल हो गया। जिसकी बाद मेे मौत हो गई।

एंबुलेंस में सवार एक महिला ने बताया कि उसके पिता रामसिंह ( निवासी आशापुरी ) को उल्टी दस्त होने के बाद आरकेडीएफ में भर्ती किया था। जब हालत नहीं सुधरी तो हमीदिया में भर्ती किया। सोमवार से उन्हें हमीदिया में वेंटिलेटर पर रखा गया था। बुधवार सुबह उनकी सांसे चलना बंद हो गईं, हम लोग अस्पताल से घर ले जा रहे थे। बोर्ड ऑफिस चौराहे पर एक कार ने टक्कर मार दी। पिता अचानक उछलकर गिर गए। महिला का आरोप है कि उनकी मौत का कारण कार की टक्कर है। पुलिस इस पूरे मामले की जांच करें। पुलिस ने मामले में जांच शुरू कर

दी है।

शासकीय विभाग से सेवानिवृत है पिता

महिला ने आरोप लगाया है कि एंबुलेंस को जिस कार से टक्कर लगी उसे एक नाबालिग छात्र चला रहा था। कार चालक के साथ पुलिस का एक सुरक्षाकर्मी भी मौजूद था। कार चालक छात्र ने बताया कि उसके पिता लघु उद्योग निगम से सेवानिवृत्त हो चुके हैं। कार वीआईपी होने के चलते लोगों की भीड़ जमा हो गई। एंबुलेंस में सवार लोगों के परिजन और रिश्तेदार जुटने शुरू हो गए। कार चालक छात्र का कहना था कि एंबुलेंस की रफ्तार ज्यादा थी उसने बगल से आगे के टायर में टक्कर मारी है। कार की पहचान चाणक्यपुरी (चूना भट्‌टी) निवासी विनीता सिंह पति पुष्पेन्द्र सिंह के नाम पर रजिस्टर्ड है। पुलिस का दावा है कि जल्द ही कार चालक को हिरासत में लिया जाएगा। इधर, अस्पताल के डाक्टरों का कहना है कि उनकी उनकी हालत ज्यादा खराब थी। परिजनों ने घर ले जाने की सहमति मांगी थी। उसके बाद वह लेकर चले गए।

Posted By: Lalit Katariya

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close