Bhopal Crime News: भोपाल (नवदुनिया प्रतिनिधि)। राजधानी के लोकायुक्त कार्यालय में शुक्रवार सुबह उस वक्त अफरा-तफरी मच गई, जब कार्यालय में पदस्थ एक कर्मचारी को वहां मौजूद लोगों ने फांसी लगाते देखा। स्टाफकर्मियों ने किसी तरह उसे बचाया। घटना की सूचना मिलते ही कोहेफिजा थाने की पुलिस मौके पर पहुंची। कर्मचारी को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है।

कोहेफिजा थाना पुलिस के मुताबिक शिवाजी नगर निवासी रामचंद्र माकोड़े लोकायुक्त कार्यालय में पदस्थ हैं। वह उप-लोकायुक्त एसके पालो के निज सहायक (पीए) हैं। रोजाना की तरह शुक्रवार को सुबह 10:30 बजे वह अपने कार्यालय पहुंच गए थे। स्टाफ के कर्मचारी भी अपने-अपने काम में व्यस्त हो गए थे। इस बीच अचानक रामचंद्र ने अपने कमरे में लगे पंखे से रस्सी बांधकर फंदा अपने गले में लगा लिया। स्टाफ के लोगों की नजर पड़ी तो वे लोग शोर मचाते हुए दौड़े और रामचंद्र को फांसी लगाने से रोक लिया। साथ ही घटना की सूचना पुलिस को दी।

उधर, लोकायुक्त कार्यालय में कर्मचारी द्वारा खुदकुशी की कोशिश का मामला सामने आते ही हड़कंप मच गया। हालांकि इस मामले में लोकायुक्त पुलिस के अधिकारी कुछ भी बताने से बचते रहे। सीएसपी शाहजहांनाबाद नागेंद्र पटेरिया ने बताया कि उप-लोकायुक्त के पीए ने पंखे से रस्सी बांधकर फांसी लगाने की कोशिश की थी। स्टाफ के लोगों ने उन्हें पकड़ लिया था। इस मामले में अभी कर्मचारी बयान देने की स्थिति में नहीं है। उसे उपचार के लिए अस्पताल भेजा गया है। मामले की जांच की जा रही है।

Posted By: Ravindra Soni

NaiDunia Local
NaiDunia Local