भोपाल (नवदुनिया प्रतिनिधि)। शाहजहांनाबाद थाना इलाके के वाजपेयी नगर में सोमवार रात एक महिला को गोली मार दी गई। महिला के छोटे भाई की एक वर्ष पहले हत्या हो गई थी। उस मामले में महिला चश्मदीद गवाह है। उसे कई दिनों से अदालत में गवाही नहीं देने के लिए धमकियां मिल रही थीं। फरियादी महिला के खिलाफ भी पांच आपराधिक मामले दर्ज हैं। महिला की हालत खतरे से बाहर बताई गई है। पुलिस ने दो महिलाओं सहित चार लोगों के खिलाफ जानलेवा हमला करने का केस दर्ज मामले की जांच शुरू कर दी है।

शाहजहांनाबाद थाना प्रभारी जहीर खान ने बताया कि वाजपेयी नगर मल्टी में रहने वाली प्रीति चौधरी (28) किराने की दुकान चलाती हैं। प्रीति चौधरी ने अपने बयान में बताया कि सोमवार रात को वह घर से कुछ दूरी पर रहने वाली अपनी भाभी के घर खाना खाने गई थी। खाना खाने के बाद रात 11:30 बजे वह अपने घर लौट रही थी। अभी वह करीब 10 मीटर तक चली थी, तभी फुफु, फुफू की मां और बहन के अलावा अरुणसिंह उर्फ खुजाल ने उसका रास्ता रोक लिया। चारों ने प्रीति के साथ मारपीट करना शुरू कर दी। इस दौरान उस पर पिस्तौल से फायर कर दिया। गोली उसके दाएं हाथ में कुहनी के ऊपर लगी। परिवार के लोग प्रीति को लेकर हमीदिया अस्पताल पहुंचे। उपचार के बाद प्रीति की हालत अब खतरे से बाहर बताई जा रही है।

एक साल पहले हुई थी प्रीति के छोटे भाई अजय कनाडे उर्फ चोटी की हत्या

टीआइ खान ने बताया कि 14 अगस्त 2020 की रात करीब 10 बजे अजय कनाडे उर्फ चोटी की शौर्य परिसर गेट के पास 12 लोगों ने हत्या कर दी थी। मामला अभी कोर्ट में विचाराधीन है। घटना के बाद से ही दोनों पक्षों में रंजिश चली आ रही है। प्रीति चौधरी के खिलाफ भी पांच केस दर्ज हैं। प्रीति की शिकायत के आधार पर आरोपितों के खिलाफ हत्या के प्रयास का केस दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी गई है।

Posted By: Ravindra Soni

NaiDunia Local
NaiDunia Local