Bhopal Crime News: भोपाल (नवदुनिया प्रतिनिधि)। किसी जमाने में ठगी के मामले में कुख्यात रहे नटवरलाल की तर्ज पर राजधानी के अनवार बेग ने कई लोगों के साथ धोखाधड़ी की है। तलैया थाना पुलिस उसे 10 माह से सरगर्मी से तलाश कर रही थी। दो मामलों में एसपी ने उसकी गिरफ्तारी पर दो-दो हजार रुपये का इनाम भी घोषित कर रखा था। मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने उसे हिरासत में ले लिया, लेकिन उसे थाने से ही छोड़ना पड़ा। दरअसल उसे हाईकोर्ट से जमानत मिल चुकी थी।

तलैया थाना पुलिस के मुताबिक 28 दिसंबर 2020 को मोती मस्जिद के पास रहने वाले फैजान अली ने शिकायत दर्ज कराई थी। उसमें बताया कि एक फ्लैट के नाम पर अनवार बेग ने उससे 16 लाख रुपये लिए थे। बाद में पता चला कि जिस फ्लैट के एवज में अनवार ने उससे रुपये लिए हैं, वह किसी और का है। इसके बाद पुलिस ने अनवार के खिलाफ अमानत में खयानत और धोखाधड़ी का केस दर्ज किया था। इसी तरह घाटी भड़भूंजा में रहने वाले बाबू खान को अनवार ने एक फ्लैट दिलाकर रुपये लिए थे, लेकिन जब वह फ्लैट का कब्जा लेने पहुंचे तो उस फ्लैट में तनवीर नाम का व्यक्ति रहता था। पता चला कि अनवार ने तनवीर के साथ मिलकर बाबू खान से रुपये हड़प लिए थे। इस मामले में दो जनवरी 2021 को अनवार बेग और तनवीर के खिलाफ धोखाधड़ी, अमानत में खयानत के तहत केस दर्ज किया गया था।

इसी तरह अनवार ने अनवार उल हसन नाम के व्यक्ति को चटोरी वाली गली में दुकान दिलाने के नाम पर पांच लाख रुपये लेकर हड़प लिए थे। इस मामले में 27 फरवरी 2021 को अनवार बेग के खिलाफ धोखाधड़ी, अमानत में खयानत का केस दर्ज किया था। तीनों मामलों में अनवार फरार चल रहा था। एसपी (नार्थ) ने दो मामलों में फरार ठग अनवार के खिलाफ अलग-अलग दो-दो हजार रुपये का इनाम भी घोषित किया था। बुधवार को मुखबिर की सूचना पर पातरा रोड तलैया निवासी अनवार बेग (53) को हिरासत में लिया गया। थाने लाकर पूछताछ करने पर अनवार बेग ने जबलपुर उच्च न्यायालय द्वारा उसे प्रदान की गई जमानत के दस्तावेज प्रस्तुत कर दिए। इस वजह से विधि अनुसार कार्रवाई करते हुए अनवार को थाने से छोड़ दिया गया। अनवार के खिलाफ कोतवाली, जहांगीराबाद थाने में भी धोखाधड़ी के अपराध दर्ज हैं।

Posted By: Ravindra Soni

NaiDunia Local
NaiDunia Local