भोपाल, नवदुनिया प्रतिनिधि। राजधानी में पिछले दिनों में सिलसिलेवार तरीके से वृद्ध महिलाओं को निशाना बनाकर उनके साथ ठगी की वारदात की गई। शातिर ठगों ने नोटों की गड्डी देने का झांसा देकर महिलाओं के जेवर उतरवाए और फिर पुड़िया या रूमाल में नकली जेवर थमाकर चंपत हो गए। ।पुलिस ठगी की शिकार महिलाओं द्वारा बताए हुलिये के आधार पर उनके स्केच बनवा रही है। सीसीटीवी की मदद से मिले फुटेज भी खंगाले जा रहे हैं।लेकिन वह हाथ नहीं आ रहे हैं।

बता दें कि पुलिस आयुक्त प्रणाली लागू होने के बाद पहली बार है, जब एक ठगी के गिरोह को दबोचने के लिए चार थानों के साथ क्राइम ब्रांच की टीम को लगाया गया है। आरोपित अभी कई तरह से झांसे देकर वारदात कर चुके हैं।

ऐसे दिया जा रहा झांसा

शातिर ठग अभी तक अकेली महिलाओं को देखकर भूख लगने का बहाना बनाकर नोटों की गड्डी दिखाकर जेवर उतरवाते हैं। इन घटनाओं से राजधानी पुलिस को चुनौती मिल रही है। तीन दिन में चार ठगी की वारदात से पुलिस चकरघिन्नी हुई जा रही है। सोमवार को कोहेफिजा और बैरागढ़, मंगलवार को टीटी नगर अैर गुरुवार को हनुमानगंज थाना इलाके में ठगी की वारदात ने पुलिस की चौकसी पर सवाल खड़े कर दिए। चारों वारदात में करीब दस लाख का सामान ठगी कर उड़ाया जा चुका है। सभी घटनाएं अकेली और वृद्ध महिलाओं के साथ की गई है।

धर्मशाला, होटल और लाज पर निगरानी

पुलिस ने इन शातिर ठगों को घेरने के लिए रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड के आसपास की धर्मशाला, होटल और लाज पर अपनी निगरानी को बढ़ा दिया। इन स्थानों पर थाना स्‍तर की पुलिस चेकिंग भी कर रही है। पुलिस के एक आला अधिकारी ने दावा किया है कि आरोपियों को जल्द गिरफ्तार कर लेंगे।

Posted By: Ravindra Soni

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close