भोपाल, नवदुनिया प्रतिनिधि। राजधानी के शाहपुरा में करीब तीन माह पहले एक नवविवाहिता ने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली थी। महिला ने प्रेम विवाह किया था। शादी के बाद से उसका पति अपने परिवार के लोगों के साथ मिलकर उसे प्रताड़ित करने लगा। तंग आकर महिला ने फांसी लगाकर जान दे दी थी। बाद में पुलिस ने जांच के बाद आरोपित पति आकाश सेठी और उसके परिवार के खिलाफ दहेज प्रताड़ना और खुदकुशी के लिए उकसाने का मामला दर्ज कर लिया। पिता ने इस मामले में ससुराल पक्ष पर गंभीर आरोप लगाए हैं।

जानकारी के मुताबिक को साक्षी एक मध्यमवर्गीय परिवार की बेटी थी। उसके पिता एलआइसी में कार्यरत है। साक्षी और आकाश ने दोनों परिवारों की सहमति से प्रेम विवाह किया था। विवाह के बाद कुछ समय तक सब कुछ ठीक रखा लेकिन अचानक सेठी परिवार के मन मे लालच आया और उन्होंने साक्षी के पिता से कार और नकद राशि की मांग शुरू कर दी। नहीं देने पर साक्षी को प्रताड़ित करने शुरू कर दिया। मध्यमवर्गीय पिता उन मांगों को पूरा करने में असमर्थ था। विगत 07 जुलाई को पिता राकेश सारस्वत के पास सूचना आई कि साक्षी की मृत्यु हो गई है। पिता का आरोप है कि दहेज लोभी ससुराल पक्ष के लोगों द्वारा बेटी की हत्या की गई है। इस मामले में पुलिस मुख्यालय पर भी गुहार लगाई गई, लेकिन आज तक कोई कार्रवाई उन पर नहीं हुई। आला अधिकारी तो सहयोग कर रहे हैं, किंतु निचले स्तर से कार्रवाई रुकी हुई है। आज ढाई माह हो चुके हैं, लेकिन आरोपितों की गिरफ्तारी नहीं हो पाई है। पिता का आरोप है कि त्रिलंगा भोपाल निवासी सास कीर्ति सेठी, पति आकाश सेठी, श्‍वसुर अश्विनी सेठी, मामा श्‍वसुर संजय टंडन ने मिलकर मेरी बेटी की हत्या की है।

Posted By: Ravindra Soni

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close