भोपाल, नवदुनिया प्रतिनिधि। राजधानी के खजूरी सड़क इलाके में स्थित आफिसर टाउन कॉलोनी भौंरी में सेना के पूर्व सूबेदार के इकलौते बेटे ने कनपटी पर पिस्टल रखकर खुद गोली मारकर ली। घटना सोमवार दोपहर करीब दो से ढाई बजे करीब की है। पिता उसे भैंसाखेड़ी स्थित निजी अस्पताल लेकर पहुंचे थे, जहां डाक्टर ने प्राथमिक जांच में ही उसे मृत घोषित कर दिया।

जांच में पुलिस ने पाया है कि उसका सुबह माता-पिता से विवाद हुआ था और इस बात को लेकर वह दुखी था। घटना के पहले वह पिता से फोन पर बात भी कर रहा था। उसके पास से सुसाइड नोट नहीं मिला है। पुलिस ने मर्ग कायम कर शव पीएम के लिए भेज दिया है। खजूरी सड़क थाने के सब इंस्पेक्टर शिवेंद्र मिश्रा के मुताबिक अमनदीप सिंह (24) आफिसर कालोनी भौंरी में रहता था। अमनदीप के पिता प्रदीप सिंह सेंगर सेना से दो साल पहले ही सेवानिवृत्त हुए हैं और बैरागढ़ के राजदीप अस्पताल में नौकरी करते हैं। प्रदीप के परिवार में पत्नी रेखा सेंगर के अलावा इकलौता बेटा अमन दीप ही था। अमन फिलहाल कोई काम नहीं करता था।

आखिरी बार पिता से फोन की थी बात

प्रदीप सिंह सोमवार सुबह अस्पताल चले गए थे। घर पर उनकी पत्नी रेखा सेंगर और बेटा अमनदीप था। दोपहर करीब ढाई बजे के आसपास अमनदीप घर से कुछ दूरी पर स्थित पार्क पहुंचा। वह अपने साथ पिता की पिस्टल लेकर गया था। उसने पिता को फोन कर सिर्फ इतना ही कहा था कि पापा अब अपनी रिवाल्वर संभालकर रख लेना। इसके बाद उसने फोन काट दिया था। इसके बाद पिता ने घर पर पत्नी को फोन कर अमनदीप की जानकारी ल, लेकिन वह नहीं मिली।

पिता लेकर पहुंचे अस्पताल

इधर, बेटे से बात करने समय फोन कटने के बाद प्रदीप ने अमनदीप को दोबारा से फोन किया, लेकिन वह फोन नहीं उठा रहा था। अनहोनी की आशंका होने पर वह कार से घर लौटे और पत्नी से अमन के बारे में पूछा। पत्नी ने उन्हें बताया कि कुछ देर पहले ही वह घर से निकला है। उन्होंने नौकर से भी पूछा, बाद वह अमन की तलाश में घर से बाहर निकले और घर से कुछ दूरी पर ही पार्क में लगी बेंच पर उन्हें अमनदीप खून से लथपथ पड़ा हुआ नजर आया। वह उसे तत्काल भैंसाखेड़ी स्थित निजी अस्पताल लेकर पहुंचे, वहां डाक्टर ने प्राथमिक जांच में ही अमनदीप को मृत घोषित कर दिया।

इनका कहना है

युवक ने अपने पिता की पिस्टल से गोली मारी है। शुरूआती जांच में जानकारी मिली है कि स्वजनों से विवाद के बाद ऐसा कदम उठाया गया है। सुसाइड नोट नहीं मिला है।

- विजय खत्री पुलिस उपायुक्त जोन- 4

Posted By: Ravindra Soni

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close