भोपाल (नवदुनिया प्रतिनिधि)। अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) मरीजों की जांच रिपोर्ट आनलाइन उपलब्ध करवा रहा है। ये रिपोर्ट 'एम्स भोपाल स्वास्थ्य एप" पर उपलब्ध कराई जा रही है, जिसे डाक्टर अपने कंप्यूटर पर खोलकर देख सकते हैं। कुछ विभागों में डाक्टर रिपोर्ट आनलाइन देखकर इलाज कर रहे हैं लेकिन ज्यादातर विभागों में ऐसा नहीं हो रहा है। मरीज व उनके स्वजनों से प्रिंटेड रिपोर्ट मंगवाई जा रही है। जिसके लिए उन्हें घंटों कतार में खड़ा रहना पड़ता है। इस तरह इस महत्वपूर्ण सुविधा का लाभ लेने से रोजाना सैकड़ों मरीज वंचित रह जाते हैं और उन्हें भटकना पड़ रहा है।

बता दें कि जांच रिपोर्ट लेने के लिए मरीज व उनके स्वजन पहले तो कतार में घंटों इंतजार करते हैं। फिर रिपोर्ट लेकर संबंधित विभाग तक पहुंचते हैं, जहां डाक्टर को दिखाने के लिए पुन: कतार में लगना पड़ रहा है। यहां तक कि भर्ती मरीजों को उनके वार्डों में रिपोर्ट नहीं मिल रही है। हालांकि, हाल ही में एम्स के डायरेक्टर डा. अजय सिंह कह चुके हैं कि जल्द ही मरीजों के लिए पर्चा बनवाने से लेकर जांच रिपोर्ट प्राप्त करने तक की व्यवस्था को और सरल किया जाएगा। इसके लिए विभिन्ना स्तर पर काम किया जा रहा है।

ये रिपोर्ट अभी आनलाइन नहीं

रेडियोलाजी विभाग से जुड़ी जांचों को जोड़कर लगभग सभी जांच रिपोर्ट आनलाइन की जा रही है लेकिन कल्चर रिपोर्ट अभी भी आफलाइन ही मिल रही है। एम्स प्रबंधन कल्चर रिपोर्ट को भी जल्द ही आनलाइन करने के प्रयासों में जुटा है।

भरोसे में न रहें, प्रिंट लेकर रख लें

एम्स प्रबंधन मरीज व उनके स्वजनों को सलाह दे रहा है कि लंबे समय तक जांच रिपोर्ट एप पर नहीं रखी जाएंगी। इनका प्रिंट लेकर रख लें। तीन माह की अवधि पूरी होने पर इन्हें एप से हटा दिया जाएगा।

एप पर यह सुविधा भी

- इलाज के लिए पंजीयन करा सकते हैं।

- जांच रिपोर्ट के लिए कितना शुल्क लगेगा, यह देख सकते हैं। शुल्क की राशि आनलाइन जमा कर सकते हैं। ओपीडी से जुड़ी जानकारी प्राप्त करने की सुविधा है।

Posted By: Ravindra Soni

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close