- 298 कोच अगस्त तक बनाए, 104 कोच 30 सितंबर तक तैयार होंगे

भोपाल (नवदुनिया प्रतिनिधि)। कोरोना संक्रमण के बीच कामकाज प्रभावित होने की खबर तो आपने सुनी है। अब यह भी सुन लीजिए कि निशातपुरा रेल कारखाना के रेलककर्मियों ने कोरोना संक्रमण को मात देने के साथ ही 402 पुराने कोच को नया बनाने का काम पूरा कर लिया है। इन्होंने अगस्त माह तक 298 कोच तैयार किए थे। इनमें 13 एलएचबी (जर्मन कंपनी लिंक हॉफमैन बुश के सहयोग से तैयार कोच) कोच थे। वर्तमान में 104 कोच पर काम चल रहा है, जो 30 सितंबर तक पूरा हो जाएगा। इनमें तीन एलएचबी कोच शामिल हैं। रेलकर्मी हर साल 750 कोच बनाते हैं।

बता दें कि 12 साल तक चल चुके कोचों को रेल कारखाना में पुनः बनाया जाता है। इस काम के दौरान पुराने कोच के 75 फीसद हिस्से को बदल दिया जाता है। तब यह आगे 12 साल तक चलने में सक्षम बनते हैं। कोरोना संक्रमण की वजह से कारखाने में अप्रैल, मई व जून माह में काम पूरी तरह बंद था। बाद में चालू हुआ तो 50 फीसद कर्मचारी ही बुलाए गए थे। अब 100 फीसद कर्मचारियों के साथ काम चल रहा है। कारखाना प्रबंधन से प्राप्त जानकारी के मुताबिक सबसे पहले वेल्डिंग व व्हील शॉप में काम चालू कराया था। अब सभी शॉप में काम चालू करा दिया है। इस दौरान सुरक्षित शारीरिक दूरी का ध्यान रख रहे हैं।

कोरोना से बचाने रेलकर्मियों ने यह भी किया

2200 से अधिक रेलकर्मी कर रहे काम

12 सुरक्षित कैबिन कोरोना संक्रमण के दौरान बना चुके हैं, जिनमें बैठकर बाहर खड़े संदिग्धों की कोरोना जांच के सैंपल लेने की सुविधा है

30 से अधिक पलंग तैयार किए हैं, जिन्हें जरूरत के समय उपयोग कर सकते हैं

5000 पीपीई किट बनाकर देशभर में सप्लाई किए हैं, जो रेलकर्मियों को संक्रमण से बचाने काम कर रहे हैं

47 पुराने कोच को मोबाइल आइसोलेशन वार्ड में बदला है, इनकी जरूरत कभी भी पड़ सकती है

30 हजार मास्क बनाए, 4500 लीटर सैनिटाइजर बनाया

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

ipl 2020
ipl 2020