- परिजन ने लगाया सरकारी अस्पताल के डॉक्टर पर लापरवाही बरतने का आरोप

औबेदुल्लागंज। नगर के शासकीय अस्पताल में आए दिन डॉक्टरों और मरीजों के बीच नोकझोंक की स्थिति बन रही है। बीते 14 अक्टूबर को प्रेम तलाब निवासी इमरत सिंह दरबार अपने बेटे अजीत (14) को लेकर अस्पताल पहुंचे। उन्होंने डॉ. मुनीस खान को बताया मेरे बेटे को कुत्ते ने काटा था, जिसका चौथा इंजेक्शन लगवाने आया हूं। पीड़ित की बात सुन डॉक्टर ने कहा कि अस्पताल में रेबीज का इंजेक्शन नहीं है। लगवाना हो तो बाजार से ले आओ या फिर 500 रुपये जमा करा दो। इस बात को लेकर पीड़ित और डॉक्टर में विवाद की स्थिति बन गई। इस मामले में प्रदेश कांग्रेस कार्यकारिणी के सदस्य इमरत सिंह दरबार ने डॉक्टर मुनीस खान से ब्लॉक मेडिकल ऑफिसर (बीएमओ) डॉ. अरविंद चौहान से बात करने को कहा, लेकिन उन्होंने साफ मना कर दिया। जिसके बाद इस मामले की शिकायत स्वास्थ्य मंत्री को लिखित में की गई। सरकारी अस्पताल में डॉक्टरों की मनमानी से मरीज खासे परेशान हैं। वहीं, बीते दो अक्टूबर को दाहोद निवासी प्रकाश कोल को कुत्ते के काटने के कारण संक्रमण हो गया था, जिससे उसकी मौत हो गई थी। इस मामले में मृतक के परिजनों ने डॉक्टरों पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए शासकीय अस्पताल परिसर में हंगामा किया था।

--------------

मरीज और मरीज के पिता दोनों ही बिना मास्क लगाए अस्पताल आए थे। हमने उन्हें मास्क लगाकर आने को कहा तो उन्होंने अपशब्दों का प्रयोग किया और धमकाने लगे। इस कारण विवाद की स्थिति बन गई।

- डॉ. मुनीस खान, औबेदुल्लागंज शासकीय अस्पताल

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस