सीएमएचओ ने कलेक्टर, एसीएस व अन्य अधिकारियों को लिखा पत्र

भोपाल। नचदुनिया प्रतिनिधि

कोरोना टीकाकरण के लिए 23 अक्टूबर तक निजी व सरकारी स्वास्थ्यकर्मियों की सूची तैयार की जानी थी, लेकिन कई निजी अस्पताल अपने कर्मचारियों की सूची ही नहीं उपलब्ध करा रहे हैं। इस वजह से भारत सरकार के पोर्टल पर कर्मचारियों की जानकारी अपलोड नहीं हो पा रही है। निजी अस्पतालों की लापरवाही से नाराज सीएमएचओ डॉ. प्रभाकर तिवारी ने सभी निजी अस्पताल संचालकों को पत्र लिखा है। उन्होंने कहा है एक दिन के भीतर जानकारी नहीं मिली तो कई कर्मचारी टीकाकरण से छूट जाएंगे। ऐसे में कर्मचारियों का टीकाकरण नहीं हो पाता है तो जवाबदेही अस्पतालों की होगी। सीएमएचओ ने यह पत्र कलेक्टर अविनाश लवानिया और अपर मुख्य सचिव (एसीएस) स्वास्थ्य मोहम्मद सुलेमान को भी भेजा है।

बता दें कि अगले साल पहली तिमाही में कोरोना का टीका आने की उम्मीद है। सबसे पहले टीका सरकारी और निजी अस्पताल के कर्मचारियों को लगेगा। इसमें स्वास्थ्यकर्मी और अन्य कर्मचारी शामिल रहेंगे। टीकाकरण के लिए भारत सरकार ने सीएमएचओ के माध्यम से निजी और सरकारी अस्पतालों में काम करने वाले कर्मचारियों की सूची पोर्टल पर अपलोड करने को कहा है। जिला स्तर पर 23 अक्टूबर तक जानकारी एकत्र करने के निर्देश एसीएस ने दिए थे। सीएमएचओ ने बताया कि कर्मचारियों का परिचय और पता प्रमाणित करने वाले दस्तावेज भी लिए जा रहे हैं, जिससे सही कर्मचारी को ही वैक्सीन मिल सके। उन्होंने कहा सबसे ज्यादा कर्मचारी मेडिकल कॉलेज में हैं, पर वहीं से जानकारी नहीं मिली है। शहर में सभी पैथी के 700 क्लीनिक हैं, पर करीब 300 से ही जानकारी मिल पाई है।

डायबिटीज, बीपी के मरीज व बुजुर्गों को पहले लगेगा टीका

राज्य टीकाकरण अधिकारी डॉ. संतोष शुक्ला ने बताया कि पहली बार निजी और सरकारी क्षेत्र के कर्मचारियों का आंकड़ा इकठ्ठा किया जा रहा है, इसलिए कुल कर्मचारियों की संख्या बताना अभी कठिन है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में स्वास्थ्य व चिकित्सा शिक्षा विभाग के अधीन करीब चार लाख कर्मचारी हैं। दूसरे विभागों के व निजी अस्पताल शामिल करने पर यह आंकड़ा 10 लाख से ऊपर जाएगा। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्यकर्मियों के बाद सामान्य आबादी में ज्यादा जोखिम वाले लोगों को टीका लगेगा। इसमें डायबिटीज और ब्लड प्रेशर के मरीज व 60 साल से ऊपर के लोग शामिल होंगे। उन्होंने बताया कि 31 अक्टूबर तक स्वास्थ्यकर्मियों की सूची भारत सरकार के पोर्टल पर अपलोड की जाएगी।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस