- कलियासोत दशहरा मैदान पर सबसे ऊंचा 45 फीट का रावण, 40 फीट का कुंभकर्ण और 35 फीट का मेघनाद का पुतला दहन हुआ

भोपाल (नवदुनिया प्रतिनिधि)। राजधानी में सोमवार को विजयादशमी पर्व उल्लास के साथ मनाया गया। बुराई के प्रतीक रावण, कुंभकर्ण व मेघनाद का अंत हुआ। कलियासोत दशहरा मैदान पर जनश्री लोक कल्याण समिति की ओर से सबसे ऊंचा 45 फीट ऊंचा रावण, 40 फीट का कुंभकर्ण और 35 फीट के मेघनाद के पुतलों का दहन किया गया। छोला दशहरा मैदान पर हिंदू उत्सव समिति की ओर से 35 फीट का रावण, 30 फीट का कुंभकर्ण और 25 फीट ऊंचे मेघनाद का दहन किया गया। टीटी नगर दशहरा मैदान पर सिर्फ 25 फीट और बिट्टन मार्केट में सबसे छोटे 11 फीट ऊंचे रावण का दहन हुआ। इसके अलावा शाहपुरा, जंबूरी मैदान सहित शहर के 13 प्रमुख स्थानों पर रावण दहन कार्यक्रम हुए। कॉलोनियों में भी छोटे-छोटे रावण के पुतलों का दहन किया गया। कोरोना के कारण कार्यक्रमों में हर साल की तरह की तरह लोगों की ज्यादा भीड़ देखने को नहीं मिली। सुरक्षित शारीरिक दूरी के साथ दशहरा उत्सव समितियों के पदाधिकारी व सदस्य मौजूद रहे। शाम छह से रात साढ़े आठ बजे तक रावण दहन कार्यक्रम संपन्न हुए।

-चकना चूर हुआ रावण का घमंड

जनश्री लोक कल्याण समिति की ओर से कलियासोत दशहरा मैदान पर रावण,कुंभकर्ण और मेघनाद का दहन किया गया। शाम सात बजे भगवान राम, लक्ष्मण, हनुमान जी तिलक किया। जय-जय श्रीराम के जयकारे लगे। बाण लगते ही 20 सेकंड में रावण, कुंभकर्ण, मेघनाद का घमंड चकना चूर हो गया। आतिशबाजी की गई। मौके पर रमाशंकर गुप्ता, राकेश जोशी सहित करीब तीन हजार लोग उपस्थित थे।

- परंपरागत तरीके से मनाया विजयादशमी पर्व

पुराने शहर के छोला दशहरा मैदान पर हिंदू उत्सव समिति की ओर से परंपरागत तरीके से रावण दहन कार्यक्रम रखा गया। रावण दहन से पहले पुराने शहर में शाम पांच बजे से चिंतामन चौराहा, यूनानी शफाखाना, सुल्तानिया रोड, चौकी-चौक, घोड़ा नक्कास, बस स्टैंड, छोला रोड, अग्रवाल धर्मशाला होते हुए छोला दशहरा मैदान पर चल समारोह पहुंचा। यहां पर समितियों के पदाधिकारियों व सदस्यों ने भगवान राम, लक्ष्मण और हनुमान जी की आरती की। इसके बाद भगवान राम ने रावण का वध किया। तीनों पुतलों का 10 मिनट में दहन हो गया। समिति के अध्यक्ष कैलाश बेगवानी और संयोजक धर्मेंद्र पैगवार ने बताया कि रावण, कुंभकर्ण और मेघनाद के पुतलों को मास्क लगाए गए थे।

Posted By: Nai Dunia News Network

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस