भोपाल, नवदुनिया प्रतिनिधि। विरोध के बाद भोपाल सामान्य वन मंडल को सोमवार को अपनी ही जमीन पर बाउंड्रीवाल का काम रोकना पड़ा। यह विरोध कांग्रेस विधायक पीसी शर्मा और संस्कृति बचाव मंच के चंद्रशेखर तिवारी के नेतृत्व में दर्ज कराया गया है। जमीन वन विभाग की है, जो लिंक रोड नंबर दो पर तुलसी टावर के सामने है। इसी पर वन भवन का निर्माण किया है। इसी परिसर में एक मंदिर बना है, जिसमें पूजा-अर्चना होती है। मुख्य मंदिर से सटकर दूसरे धार्मिक स्थलों का निर्माण किया है। इस जमीन पर वन विभाग बाउंड्रीवाल का निर्माण कर रहा है। मंदिरों में प्रवेश के लिए भी अलग से जगह छोड़ी है। शुरूआत से बाउंड्रीवाल न बनाई जाए, इसको लेकर मांग उठती रही है। अभी तक इसका नेतृत्व कांग्रेस विधायक शर्मा कर रहे थे। सोमवार को इसमें संस्कृति बचाओ मंच के चंद्रशेखर तिवारी भी कूद पड़े हैं।

दरअसल, वन विभाग यहां चार महीने से बाउंड्रीवाल का काम कर रहा है। तब भी पीसी शर्मा व उनके समर्थक बड़ी संख्या में पहुंचे थे और विरोध किया था। वन विभाग के अधिकारियों ने समझाया था कि मंदिर में प्रवेश से किसी को नहीं रोका जा रहा है, बल्कि प्रत्येक नागरिक प्रवेश करके पूजा-अर्चना कर सकते हैं। तब मामला किसी तरह शांत हुआ था हालांकि तब भी करीब एक माह तक विवाद की स्थिति बनी रही थी। वन विभाग ने जैसे ही काम चालू कराया तो पुन: पीसी शर्मा समर्थकों के साथ पहुंचे और विरोध दर्ज कराया है। इसी बीच चंद्रशेखर तिवारी पहुंचे और उन्होंने कहा उक्त धार्मिक मंदिरों को 70 वर्ष पुराना बताया है। यह भी कहा है कि मंदिर के बिल्कुल ठीक सामने से दीवार नहीं बनने देंगे। किसी ने बनाई तो विरोध दर्ज कराएंगे। इन तमाम विरोधों के बाद वन विभाग ने फिलहाल काम रोक दिया है।

मंदिर सुरक्षित

भोपाल सामान्य वन विभाग के अधिकारियों की ओर से कहा गया है कि मंदिर पूरी तरह सुरक्षित है। उनमें विधिवत पूजा-अर्चना कराई जा रही है। उनकी सुरक्षा के लिए ही बाउंड्रीवाल का निर्माण किया जा रहा है।

मंदिर में प्रवेश के लिए बड़ा प्रवेश द्वार बनाया है, जो हमेशा खुला रहता है। कभी किसी को नहीं रोका है। विरोध करने वाले नागरिक इस प्रवेश द्वारा से 50 से 70 फीट पहले ही अलग प्रवेश द्वार मांग रहे हैं। इतनी कम दूरी में अलग-अलग प्रवेश द्वार देना संभव नहीं है। खर्च भी अधिक आएगा। शासकीय जमीनों को सुरक्षित रखने के लिए सहयोग करें।

- आलोक पाठक, डीएफओ, भोपाल सामान्य वन मंडल

Posted By: Ravindra Soni

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close