Bhopal News : भोपाल (नईदुनिया प्रतिनिधि)। अयोध्या नगर इलाके में शनिवार रात सवा ग्यारह बजे नवदुनिया समाचार पत्र के वरिष्ठ पत्रकार पर तीन युवकों ने रॉड और डंडों से जानलेवा हमला कर उन्हें लहूलुहान कर दिया। उनके हाथ में टांके लगे हैं। उनका कसूर सिर्फ इतना था कि उन्होंने घर के सामने पानी की टंकी पर चढ़े तीनों युवकों को शराब पीने से रोका था। दरअसल, आरोपित बीते चार दिन से लगातार शराब पीकर हंगामा कर रहे थे। उनकी इस हरकत से पूरी कॉलोनी के रहवासी परेशान थे। तीनों आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया गया है।

उनके खिलाफ घर में घुसकर जानलेवा हमला करने की एफआइआर दर्ज की गई है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ट्वीट कर मामले में पुलिस को कठोर कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। पूर्व मंख्यमंत्री कमल नाथ ने भी घटना की निंदा कर सख्त कार्रवाई की मांग की है। अयोध्या नगर पुलिस के अनुसार अभिनव होम्स फेस-4 अयोध्या बायपास निवासी धनंजय प्रताप सिंह नवदुनिया समाचार पत्र में स्टेट ब्यूरो प्रमुख हैं। उनके घर के पास बनी पानी की टंकी पर चढ़कर तीन युवक शराब पीकर हुड़दंग मचा रहे थे।

जब रहवासियों ने विरोध किया तो तीनों युवकों ने अपशब्द कहना शुरू कर दिए। घर के बाहर शोर मचने पर धनंजय प्रताप सिंह बाहर निकले और उन्होंने आरोपितों को समझाया, लेकिन नशे में धुत तीनों आरोपित नहीं माने, बल्कि उनके घर में घुस गए। दरवाजा तोड़ने की कोशिश भी की। इसका विरोध करने पर आरोपितों ने धनंजय प्रताप पर लोहे की रॉड और डंडों से हमला कर उन्हें लहूलुहान कर दिया है। उनका इलाज जेपी अस्पताल में कराया गया है।

पुलिस ने एक आरोपित 28 वर्षीय चिराग वालिस निवासी अभिनय होम्स फेस-4 को मौके से गिरफ्तार किया, जबकि अन्य दोनों आरोपितों आजाद नगर थाना पिपलानी निवासी 23 वर्षीय मोहित सक्सेना और रीगल होम्स थाना अवधपुरी निवासी 25 वर्षीय अनमोल रत्न को देर रात उनके घरों से गिरफ्तार कर लिया गया। मोहित सक्सेना प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहा है, जबकि अनमोल और चिराग इंजीनियरिंग के छात्र हैं।

सख्त कार्रवाई की जाए

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने हमले की जानकारी मिलने पर वरिष्ठ पत्रकार धनंजय प्रताप सिंह से फोन पर चर्चा कर उनके स्वास्थ्य की जानकारी ली। साथ ही ट्वीट कर पुलिस को सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए।

पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ ने ट्वीट कर हमले को दुर्भाग्यपूर्ण और निंदनीय बताया है। उन्होंने सवाल उठाया है कि शिवराज सरकार में कौन सुरक्षित है? भोपाल में शराबखोरों द्वारा दो छात्रों की हत्या कर दी गई और अब पत्रकार पर हमला हुआ।

इधर, पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण यादव ने घटना के दोषियों पर रासुका के तहत कार्रवाई की मांग की है। सुरक्षा की मांग उठाई गृहमंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा ने भी ट्वीट कर पुलिस अधिकारियों को घटना के आरोपितों पर सख्त कार्रवाई करने को कहा है।

राज्यसभा सदस्य ज्योतिरादित्य सिंधिया ने अपने ट्वीट में आरोपितों पर सख्त कार्रवाई की मांग के साथ कहा है कि यह लोकतंत्र के चौथे स्तंभ पर हमला है। आरोपितों पर ऐसी कार्रवाई हो कि ऐसी हरकत करने की किसी की हिम्मत न हो। मंत्री तुलसीराम सिलावट ने हमले को कायरतापूर्ण बताते हुए घटना की निंदा की है। इधर घटना को लेकर विभिन्न पत्रकार संगठनों ने चिंता जाहिर की है। उन्होंने एक बार फिर पत्रकार सुरक्षा कानून की मांग उठाई है।

Posted By: Hemant Kumar Upadhyay

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

नईदुनिया ई-पेपर पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करे

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

डाउनलोड करें नईदुनिया ऐप | पाएं मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ और देश-दुनिया की सभी खबरों के साथ नईदुनिया ई-पेपर,राशिफल और कई फायदेमंद सर्विसेस

Ram Mandir Bhumi Pujan
Ram Mandir Bhumi Pujan