Bhopal News:संत हिरदाराम नगर (नवदुनिया प्रतिनिधि)। संत हिरदाराम नगर के सिंधी दरबारों एवं मंदिरों में अब वरुण अवतार भगवान झूलेलाल के जीवन चरित्र एवं सनातन धर्म एवं पूजन पद्धति का संदेश देने वाले अमर कथा ग्रंथ की स्थापना की जाएगी। इसकी शुरूआत सोमवार को बैरागढ़ के पुराना बी वार्ड स्थित झूलेलाल, आसनलाल मंदिर से की गई। मंगलवार को सुबह संत वासु राम दरबार में भी अमर कथा ग्रंथ की स्थापना की गई।

भगवान झूलेलाल के 26 वें वंशज ठकुर साई मनीषलाल के आह्वान पर देश भर के मंदिरों में इस ग्रंथ की स्थापना की जा रही है। सेवादार जगदीश टेहलानी ने बताया कि धीरे- धीरे सभी मंदिरों में सनातन धर्म एवं वरूण देवता के संदेश का पाठ किया जाएगा। ग्रंथ की स्थापना से पहले प्रभातफेरी निकाली गई। प्रभात फेरी में सुनील खूबचंदानी, संजय आसवानी, खिल्लु खूबचंदानी सहित बड़ी संख्या में सिंधी समाज के गणमान्य नागरिक एवं वरुण अवतार के वंशज शामिल हुए। प्रभात फेरी के बाद पुराना भी वार्ड स्थित ठकुर आसनलाल धर्मशाला भंडारा हुआ। टेहलानी ने बताया कि देशभर के सिंधी दरबारों में अमर कथा ग्रन्थ की स्थापना की जाएगी।

पहले ज्योति प्रज्वलित फिर स्थापना

संत वासुराम दरबार में भाई परसोत्तम वासवानी की अगुवाई में श्री अमर कथा ग्रंथ की स्थापना की गई। इसके पहले भगवान झूलेलाल की अखंड ज्योति प्रज्वलित की गई। इस अवसर पर अमर कथा का पाठ भी किया गया। भाई पुरुषोत्तम वासवानी ने कहा कि भगवान झूलेलाल का संदेश हमें जल एवं ज्योति की पूजा करने का संदेश देता है अमर कथा ग्रंथ के माध्यम से हम वरुण अवतार की पूजा अर्चना के साथ जल एवं ज्योति की पूजा भी करेंगे। एफ वार्ड श्री गंगा धाम दरबार में उदासीन दरबार में महंत तुलसी दास उदासीन के सानिध्य में सनातन सनातन पूजन शुरू हो गया है अरदास भी सनातन परंपरा के अनुसार की जा रही है।

Posted By: Lalit Katariya

NaiDunia Local
NaiDunia Local
  • Font Size
  • Close